विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

परिषदीय स्कूलों में फर्जी शिक्षकों पर शासन की नकेल, मांगी रिपोर्ट

गोरखपुर: परिषदीय स्कूलों में अनियमित व फर्जी रूप से नियुक्त शिक्षकों को लेकर एक बार फिर शासन ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। संदिग्ध शिक्षकों की सूची जारी करते हुए शासन ने बेसिक शिक्षाधिकारियों को ऐसे शिक्षकों की सेवाएं समाप्त कर तत्काल मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया है।


शासन ने सूबे में चिह्न्ति 72 शिक्षकों की जो सूची जारी की है उसमें गोरखपुर के छह शिक्षक शामिल हैं। जिनमें पांच के विरुद्ध बर्खास्तगी व एफआइआर की कार्रवाई हो चुकी है। बड़हलगंज ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय खोहिया पट्टी में तैनात शिक्षक आशीष कुमार सिंह को एसटीएफ ने लखनऊ से गिरफ्तार किया था। जिसके बाद तत्कालीन बीएसए ने कार्रवाई करते हुए बर्खास्त कर दिया था। इस मामले में एसटीएफ भी मामले की जांच कर रही है।

इन ब्लाकों के हैं सूची में शामिल शिक्षक : शासन की तरफ से जारी सूची में जनपद के चिह्न्ति संदिग्ध शिक्षकों में प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक सुरेश कुमार, प्रावि डा.अंबेडकर शिक्षा निकेतन जूहास्कूल बशारतपुर की अर्चना मिश्र, पूर्व माध्यमिक विद्यालय पटना बड़हलगंज की सहायक अध्यापक रेखा, प्रावि रामपुर बुजुर्ग भटहट के सहायक अध्यापक आशीष कुमार सिंह, प्रावि खजुआ सरदानगर के प्रधानाध्यापक लाल चंद्र तथा प्राथमिक विद्यालय सूरअज प्रथम गोला के प्रधानाध्यापक नरेंद्र देव पांडेय शामिल हैं। इनमें से दो शिक्षकों पर दूसरे के दस्तावेज पर नौकरी करने के आरोप में बर्खास्त हो चुके हैं। जबकि दो पर हाईस्कूल के फर्जी अंक पत्र, एक व्यायाम विशारद के फर्जी अंक पत्र तथा एक अन्य फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी हासिल करने का आरोप है।

चिह्न्ति सभी संदिग्ध शिक्षकों की दस्तावेज सहित सूची तैयार कर ली गई है। जल्द ही शासन को प्रेषित कर दी जाएगी।

रमेंद्र कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षाधिकारीे

’>>शासन से जारी सूची में गोरखपुर के छह संदिग्ध शिक्षक शामिल

’>>पांच शिक्षकों पर हो चुकी है बर्खास्तगी की कार्रवाई

primary ka master