विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

आठ प्राइमरी स्कूलों पर बिजली विभाग का 14 लाख रुपये से अधिक का बकाया


परियावां। परिषदीय स्कूलों में बिजली का बकाया होने के चलते लगभग 8 प्राइमरी स्कूलों की बिजली बकाया अभियान के तहत काट दी गई। एक तरफ प्रदेश के मुख्यमंत्री के निर्देश पर 1 सितम्बर से प्राइमरी स्कूलों को खोलने का निर्देश जारी किया तो वही दूसरी तरफ बिजली विभाग ने प्राइमरी स्कूलों में लम्बी रकम बकाया के चलते 30 अगस्त से अभियान चलाकर सरकारी ऑफिस व प्राइमरी स्कूलों की बिजली काट दी है। इससे स्कूलों में बच्चों को बिना बिजली के पंखे के नीचे बैढकर गर्मी में पढ़ना पड़ेगा। इस बाबत जानकारी करने पर एक्सईएन उमाकांत द्वारा अवर अभियंता ओसामा सिद्दीकी ने बताया कि बिधुत उपकेंद्र

कालाकांकर से जुड़े प्राइमरी स्कूल ब्रह्मौली का बिजली बकाया 203662 रुपये, प्राइमरी स्कूल बरवलिया याकूबपुर का 99,903 रुपये, प्राइमरी स्कूल सोनामऊ का 41,042 रुपये प्राइमरी स्कूल सिंदौल का 137465 रुपये, प्राइमरी स्कूल इब्राहिमपुर का 269422 रुपये, प्राइमरी स्कूल हिनाहू का 269846 रुपये, प्राइमरी स्कूल कालाकांकर प्रथम 174118 रुपये, प्राइमरी स्कूल आलापुर का 271957 रुपये है। इसके चलते बिजली काट दी गयी है। टोटल बकाया स्कूलों का चौदह लाख सरसठ हजार चार सौ सोलह रुपया है। बकाया जमा होने के बाद बिजली जोड़ दी जाएगी। बिजली का लम्बा बकाया होने से स्कूल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। आखिर बिजली का बकाया बिल कैसे जमा किया जाय। बहरहाल स्कूल प्रशासन ने बिजली कटने की जानकारी अपने उच्च अधिकारियों को दे दी है। अब देखना है कि शिक्षा विभाग इस ओर क्या कदम उठाता है। अहम बात यह है कि नौनिहाल बच्चे इस चिलचिलाती धूप व उमस भरी गर्मी में कैसे शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे।

primary ka master