विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

बच्चों ने पहनी नई पोशाक गुरुजी 2 करोड़ के कर्जदार, बीएसए ने दिया यह जवाब


प्रयागराज:- जिले के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों को नई यूनिफॉर्म पहनाने में गुरुजी करोड़ों के कर्जदार हो गए। 2020-21 सत्र में ही दो करोड़ की कर्जदारी बाकी है। पिछला वित्तीय वर्ष बीते पांच महीने हो चुके हैं लेकिन बकाये भुगतान के लिए बजट जारी नहीं हो सका है। 1837-319

नतीजा ये है कि स्कूलों के प्रधानाध्यापक यूनिफॉर्म सप्लाई करने वाले व्यापारियों से सामना करने से बच रहे हैं। निःशुल्क यूनिफॉर्म वितरण के लिए पिछले साल अगस्त में बजट जारी हुआ था। प्रति छात्र दो सेट ( प्रति यूनिफॉर्म 300 रुपये के हिसाब से प्रत्येक बच्चे के लिए 600 रुपये) मिलने थे।


जिले के 4.30 लाख से अधिक बच्चों में से सामान्य वर्ग के 43,225 बच्चों का दो करोड़ रुपये नहीं मिल सका है। इसके लिए कई बार स्कूलों से सूचना जुटाकर शासन को मांगपत्र भेजा जा चुका है। लेकिन अब तक बजट जारी नहीं हुआ।

1 से 8 तक की सभी बालिकाओं, एससी, एसटी व ओबीसी छात्रों को समग्र शिक्षा अभियान से बजट जारी होता है। उसके अलावा सामान्य वर्ग के बालकों का भुगतान नॉन-बीपीएल मद में ट्रेजरी से होता है। 2020-21 सत्र का दो करोड़ का बकाया इसी नॉन-बीपीएल मद का है।

पूर्व के दो सत्रों का सात करोड़ बकाया: 2019-20 सत्र का 5.70 करोड़ व 2018-19 का 1.16 करोड़ रुपये भी बाकी है। 2019-20 सत्र में निःशुल्क यूनिफॉर्म की 25 प्रतिशत धनराशि प्राप्त न होने के कारण 5.70 करोड़ रुपये बकाया हैं। उससे पहले 2018-19 सत्र में मदरसा, समाज कल्याण के विद्यालय एवं सहायता प्राप्त माध्यमिक इंटर कॉलेज के छात्र छात्राओं के लिए 50 प्रतिशत का भुगतान किया गया था।


यूनिफॉर्म के अवशेष भुगतान के लिए मांगपत्र शासन को भेजा गया है। बजट का आवंटन होने के बाद जल्द से जल्द भुगतान कर दिया जाएगा। - प्रवीण तिवारी, बीएसए

primary ka master