विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

शिक्षा निदेशालय का प्रधान सहायक घूस लेते गिरफ्तार

प्रयागराज : शिक्षा निदेशालय के प्रधान सहायक अनिल कुमार को पुलिस की सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) की प्रयागराज यूनिट ने गुरुवार दोपहर यहां 30 हजार रुपये घूस लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ सिविल लाइंस थाने में भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज कराया गया है। अभियुक्त ने मीरजापुर के एक सहायक अध्यापक को निलंबन अवधि का वेतन दिलाने के लिए यह रिश्वत मांगी थी। पकड़ा गया आरोपित कीडगंज का निवासी है।


एसपी विजिलेंस अभिषेक महाजन ने बताया कि मीरजापुर जिले के कछवा स्थित गांधी इंटर कालेज में तैनात सहायक अध्यापक को विभागीय कार्रवाई के चलते निलंबित किया गया था। वह 19 जनवरी 2018 से 31 अक्टूबर 2018 तक निलंबित रहा। फिर वह बहाल हो गया, मगर निलंबन अवधि के दौरान उसे जो वेतन मिलना था, वह नहीं मिला। यह रकम करीब तीन लाख रुपये है। इसके लिए वह पिछले तीन साल से परेशान था। शिक्षा निदेशालय के प्रधान सहायक ने अनिल कुमार ने सहायक अध्यापक से तीन लाख रुपये का 10 फीसद बतौर रिश्वत मांगी। परेशान सहायक अध्यापक ने मामले की शिकायत प्रयागराज विजिलेंस टीम से की। विजिलेंस इंस्पेक्टर ने गोपनीय जांच में शिकायत सही पाई, इसके बाद प्रधान सहायक की गिरफ्तारी की रणनीति बनाई गई। गुरुवार दोपहर जब अनिल कुमार उक्त सहायक अध्यापक से 30 हजार रुपये घूस ले रहा था, तभी विजिलेंस टीम ने उसे कार्यालय गेट के निकट रंगे हाथ दबोच लिया।

उसके पास से 30 हजार रुपये बरामद हुए। पूछताछ के बाद विजिलेंस इंस्पेक्टर ने सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया। शुक्रवार को अभियुक्त को वाराणसी स्थित एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया जाएगा।

आरोपित प्रधान सहायक अनिल कुमार ’ साभार : विजिलेंस टीम

’>>विजिलेंस ने रंगे हाथ पकड़ा 30 हजार रुपये बरामद

’>>निलंबन के वक्त का वेतन दिलाने को मांगी थी रिश्वत

primary ka master