विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

मुख्यमंत्री का ऐलान: अक्टूबर माह में ग्राम रोजगार सेवकों प्रतिमाह ₹10000 मानदेय देने का ऐलान

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रदेश के करीब 40 हजार ग्राम रोजगार सेवकों को बड़ा तोहफा दिया है। इस बार इनकी दीपावली अधिक रोशन रहेगी।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने डिफेंस एक्सपो ग्राउंड में आयोजित महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी सम्मेलन में ग्राम रोजगार सेवकों को ईमानदारी से काम करने की सलाह देने के साथ ही उनके मानदेय में 3220 रुपए की बढ़ोतरी की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम रोजगार सेवकों को अब दस हजार रुपए प्रतिमाह मानदेय देने का ऐलान किया। इनको अभी 6780 रुपए प्रति माह मानदेय मिल रहा था।

मनरेगा सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष में हमने 246.56 लाख परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराया। इसमें से ग्राम्य विकास विभाग ने अकेले एक योजना के माध्यम से 2020-21 में प्रदेश के 94.37 लाख परिवारों को रोजगार देने का कार्य किया। यह पूरे देश में सर्वाधिक है। मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण काल के के दौरान 2020-21 में 12,622 करोड़ रुपए व्यय करते हुए 1.16 करोड़ रोजगार सृजन का कार्य हुआ, जो देश में प्रथम स्थान पर है।

उन्होंने कहा किकैब प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए एक-एक बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट सखी की तैनाती सुनिश्चित की जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों में इससे महिला सशक्तीकरण की दिशा में एक अभूतपूर्व कार्य किया जा रहा है। ग्राम्य विकास विभाग ने 52 लाख से अधिक बहनों को ग्रामीण आजीविका मिशन के साथ जोड़ा। उन्हेंं केवल रिवॉल्विंग फंड तक सीमित नहीं रखा गया, बल्कि एक व्यवस्थित, आर्थिक स्वावलंबन के साथ जोडऩे का कार्य भी किया गया। यह अद्भुत व अभिनंदनीय है। मैं धन्यवाद दूंगा ग्राम्य विकास व पंचायती राज विभाग को जिन्होंने कोरोना काल में प्रदेश सरकार के के साथ कदम से कदम मिलाकर प्रदेश के बाहर से आए 40 लाख प्रवासी कामगारों का समायोजन सरलता और सहजता के साथ करके उनके जीवन व जीविका को बचाने में अपना योगदान दिया। अपने परिश्रम व पुरुषार्थ से ग्राम्य विकास विभाग को एक नई ऊंचाई की ओर अग्रसर करने में आप सब जिस उत्साह के साथ कार्य कर रहे हैं वह इस सम्मलेन के माध्यम से स्पष्ट देखने को मिल रहा है। सचमुच यह उत्साह अभिनंदनीय है, इसके लिए मैं आप सभी का स्वागत करता हूं।

मनरेगा सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने ग्राम्य विकास विभाग में कार्यरत तकनीकी सहायक, कंप्यूटर आपरेटर, अतिरिक्त कार्यक्रम सहायक, देखा सहायक, आपरेटर, हेल्पलाइन सहायक व चतुर्थ श्रेणी कर्मियों का भी मानदेय बढ़ाने का ऐलान किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने ग्राम्य विकास मंत्री को इन सभी को बढ़ा हुआ मानदेय की अक्टूबर माह से ही देने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री की इस घोषणा से करीब चालीस हजार से अधिक कर्मियों को अपेक्षित लाभ मिलेगा। इसके साथ ही ग्राम्य विकास विभाग अब इनके लिए एचआर पालिसी भी लाएगा। जिसके तहत इनको 24 आकस्मिक व 12 चिकित्सीय अवकाश भी मिलेंगे।

primary ka master