जिले के 11 स्कूलों में डीबीटी का कार्य शुरू न होने पर पूरे स्टाफ का रोका वेतन

हाथरस

बेसिक के स्कूलों के बच्चों के अभिभावकों के खातों में यूनीफार्म, जूता-मोजा, बैग आदि की धनराशि डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी। जिसे लेकर अभिभावकों के बैंक अकाउंट, आधार आदि की फीडिंग पोर्टल पर किए जाने के निर्देश दिए हैं, लेकिन जिले के 11 स्कूल ऐसे में हैं, जिन्होंने अभी तक डीबीटी फीडिंग का कार्य शुरू ही नहीं किया है। जिसे लेकर बीएसए ने संबंधित विकास खंड के बीईओ को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है।
प्रेरणा पोर्टल द्वारा प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार जिले के 11 विद्यालयों ने डीबीटी का कार्य शुरू नहीं किया है। जिसके कारण हाथरस का नाम शत प्रतिशत कार्य प्रारंभ न करने वाले जनपदों की श्रेणी में आ रहा है। इस पर 11 विद्यालयों के समस्त शिक्षक-शिक्षिकाओं के वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकते हुए तत्काल डीबीटी का कार्य शुरू कराने के निर्देश बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारियों को दिए हैं। बीएसए शाहीन का कहना है कि ऐसा प्रतीत होता है कि संबंधित विकास खंड के बीईओ इस कार्य में रुचि नहीं ले रहे हैं। इस संबंध में विकास खंड हाथरस, मुरसान, सहपऊ नगर क्षेत्र हाथरस के बीईओ से स्पष्टीकरण मांगा गया है।




इन विद्यालयों में नहीं हुआ डीबीटी का कार्य शुरू
उच्च प्राथमिक विद्यालय खेड़ा बरामई, उच्च प्राथमिक विद्यालय संटीकरा, उच्च प्राथमिक विद्यालय बाद नगला अठवरिया, प्राथमिक विद्यालय चक्रधारी, कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय हाथरस, संविलियन विद्यालय मीतई, प्राथमिक विद्यालय नगला लाला, संविलयिन विद्यालय रामगंज, उच्च प्राथमिक विद्यालय नसीब अली मेंडू, उच्च प्राथमिक विद्यालय रामेबेटी कन्या मेंडू और कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय सहपऊ। संवाद