स्कूल परिसर में छात्रा की मौत मामले की जांच पूरी करने के लिए एसआईटी को 11 नवंबर तक मिली मोहलत


स्कूल परिसर में छात्रा की मौत का मामला, जांच पूरी करने के लिए एसआईटी को 11 नवंबर तक मिली मोहलत



प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मैनपुरी की 16 वर्षीय छात्रा की जवाहर नवोदय स्कूल परिसर में हुई मौत के मामले में एसआईटी को जांच पूरी करने के लिए 11 नवंबर तक की मोहलत दी है। सोमवार को प्रदेश सरकार की तरफ से इस मामले में बहस के लिए नियुक्त वरिष्ठ अधिवक्ता जीएस चतुर्वेदी ने कोर्ट को बताया कि 228 लोगों के सैंपल एकत्र कर डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट के लिए हैदराबाद भेजे गए हैं। इसमें से 76 लोगों की डीएनए रिपोर्ट मिल चुकी है। शेष लोगों की डीएनए रिपोर्ट शीघ्र ही मिल जाएगी। बताया गया कि - एसआईटी इस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है। सीसीटीवी फुटेज आदि की जांच की जा रही है। कोर्ट से इस मामले की तह तक पहुंचने के लिए और समय की मांग की गई।मामले की सुनवाई कर रहे चीफ ■ जस्टिस राजेश बिन्दल व न्यायमूर्ति दिनेश पाठक की बेंच ने महेंद्र प्रताप ■ सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार को उसकी मांग पर 11 नवंबर 2021 तक का समय दिया है। याची महेंद्र प्रताप सिंह ने खुद कोर्ट के सामने हाजिर होकर अपना पक्ष रखा और कहा कि पुलिस इस मामले को जानबूझकर टाल रही है और जांच में देरी कर रही है ताकि साक्ष्य मिट जाए। याची का कहना था कि यह मामला वैसे भी पुराना हो गया है और इसमें और देरी होने से साक्ष्य नहीं मिलेगा। याची का कहना था कि पुलिस लीपापोती कर रही है और वास्तविक मुल्जिम को सामने नहीं लाया जा रहा है। हाईकोर्ट के कहने पर एसआईटी की नई जांच टीम गठित की गई है।