मौसम अपडेट: अगले 24 घंटे में 3 जिलों में मौसम विभाग की ओर से भारी वर्षा होने की चेतावनी


लखनऊ: अगले 24 घंटे में लखीमपुरखीरी में मौसम विभाग की ओर से भारी वर्षा होने की चेतावनी जारी की गई है। बहुत जरूरी नहीं होने पर लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने और गैर जरूरी यात्राओं को रद्द करने की सलाह दी गई है। इसके अतिरिक्त प्रयागराज, सुलतानपुर, बहराइच में भी तेज बारिश की संभावना जताई गई है। वाराणसी, हरदोई, अमेठी में भी अच्छी बारिश होने के आसार बन रहे हैं। इससे पहले मंगलवार को लखनऊ के विभिन्न इलाकों में मध्यम बारिश हुई।


मौसम विभाग के अनुसार राजधानी में 17 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। अधिकतम तापमान में पांच डिग्री से अधिक गिरावट होने के चलते गर्मी और उमस से लोगों ने भारी राहत महसूस की। मंगलवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री व न्यूनतम तापमान 24.4 डिग्री रहा। बुधवार को यह क्रमश: 29 और चार डिग्री रह सकता है।

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते यह बारिश देखने को मिल रही है। अगले 24 घंटें में पूर्वी उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में भारी बारिश के आसार हैं। इस संबंध में जिले और आसपास एडवाइजरी जारी कर दी गई है। वहीं प्रयागराज, वाराणसी, सुलतापुर में भी उत्तम बारिश की संभावना बन रही है। लखनऊ में हल्की व मध्यम बारिश के आसार अगले 24 घंटे तक बने रहेंगे। दिन में बादल छाये रह सकते हैं। दिन में बीच-बीच में धूप भी निकल सकती है।

हवा और बारिश से गिरी धान की फसल: मलिहाबाद समेत राजधानी के अन्य इलाकों में मंगलवार को तेज हवा के साथ बेमौसम हुई झमाझम बारिश से खेतों में पकी खड़ी धान की फसल को काफी नुकसान हुआ है। वहीं दूसरी तरफ तिलहन की बोआई भी बारिश के चलते पिछड़ रही है। अपनी गाढ़ी कमाई को बर्बाद होते देख किसानों के माथे पर चिंता की लकीर खिंच गई हैं। तीन दिनों से मौसम का अचानक मिजाज बदला और आसमान में घने बादल छा गए। कुछ देर बाद तेज हवा के साथ झमाझम बारिश शुरू हो गई। इससे बीते कई दिनों से उमस भरी गर्मी से परेशान लोगों को राहत तो जरूरी मिली, लेकिन किसानों के लिए इससे मुश्किल पैदा हो गई। कई किसानों ने धान की फसल काट कर खेत में ही छोड़ रखा था। परिणाम स्वरूप खेतों में पानी भरने से फसलों के सड़ने की आशंका भी बढ़ गई है।