46 प्राइमरी स्कूलों में अब स्मार्ट टीवी से पढ़ाई

 प्रयागराज अमूमन फिसड्डी रहने वाले प्राइमरी स्कूल अब कान्वेंट स्कूलों को टक्कर देंगे। इसकी पहल बेसिक शिक्षा विभाग ने कर दी है। विभाग की ओर से बड़ोखर और बमरौली के कुल 46 प्राइमरी स्कूलों में स्मार्ट टीवी लगा दिया गया है। अब स्मार्ट टीवी से बेहतर पढ़ाई कर सकेंगे। इन स्कूलों में आनलाइन के अलावा आफलाइन कक्षाएं भी चलेंगी। इस बदलाव का असर भी दिखा और कई निजी स्कूलों के बच्चे अब इन प्राइमरी स्कूलों में प्रवेश ले रहे हैं। बेसिक शिक्षाधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी ने बताया कि स्कूलों को क्लस्टर में बांटकर विकसित करने की कोशिश हो रही है। अब तक बड़ोखर के 17 प्राथमिक विद्यालय, पांच उच्च प्राथमिक विद्यालय, बमरौली के 17 प्राथमिक विद्यालय और सात उच्च प्राथमिक विद्यालयों में स्मार्ट टीवी लगाई गई है। इसके जरिए यहां की कक्षाओं को भी स्मार्ट बनाया गया है। दीक्षा एप के साथ दूरदर्शन, स्वयं प्रभा चैनल के जरिए प्रसारित होने वाली शैक्षणिक सामग्री को बच्चों तक पहुंचाया जा रहा है। समय समय पर गणित, विज्ञान और अंग्रेजी की विषय वस्तु को समझाने के लिए रोचक वीडियो भी दिखाए जाते हैं। लक्ष्य है कि जिले के 100 स्कूलों को स्मार्ट बनाया जाए।


l पहले चरण में बड़ोखर और बमरौली के स्कूल किए गए स्मार्ट l गणित, विज्ञान,अंग्रेजी समझाने को दिखाए जा रहे रोचक वीडियो

उच्च प्राथमिक विद्यालय बारेठिया में स्मार्ट टीवी से पढ़ाई करते बच्चे।

संवर रहा मांडा का कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय जासं, प्रयागराज : कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय मांडा को भी संवारा जा रहा है। खंड शिक्षाधिकारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि प्रवेश द्वार, कक्षा कक्ष, शौचालय, डाइनिंग हाल को दुरुस्त ठीक करा दिया गया है। इसके अतिरिक्त विद्यालय में जेनरेटर, वायरिंग, इन्वर्टर की बैटरी का भी बंदोबस्त करा दिया गया है। 100 छात्राएं पंजीकृत हैं। यह जरूर है कि गणित की शिक्षक न होने के कारण स्पेशल कक्षाएं नहीं चल पा रही हैं। जल्द ही शिक्षक की व्यवस्था कर ली जाएगी।