बेसिक स्कूलों में मोबाइल एप के माध्यम से होगा बच्चों के सीखने-समझने का मूल्यांकन, इनको मिली जिम्मेदारी


वाराणसी: प्रेरणा लक्ष्य एप के जरिए बच्चों के सीखने के स्तर का मूल्यांकन किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी समस्त एकेडमिक रिसोर्स पर्सन व स्टेट रिसोर्स ग्रुप सदस्य, डीएलएड प्रशिक्षु व नवनियुक्त शिक्षकों को सौंपी गई है। ये रेंडम आधार पर चयनित प्रत्येक विद्यालय के 10 बच्चों का प्रतिदिन मूल्यांकन करेंगे।


यह भी पता चल सकेगा कि कक्षावार कौन सी दक्षताएं हासिल करने के लिए बच्चों को अतिरिक्त सहयोग की जरूरत है। बीएसए राकेश सिंह ने बताया कि गुणवत्ता संवर्धन के लिए सरल एप के जरिए प्रत्येक 30 दिन पर विद्यालय में हुई पढ़ाई का विषयवार शैक्षिक मूल्यांकन किया जाएगा। ग्रेडिंग व उत्कृष्टता के आधार पर चयनित प्रेरक बच्चों एवं उनके अभिभावकों को विद्यालय में बुलाकर सम्मानित भी किया जाएगा। छात्रों के मूल्यांकन पर ही शिक्षकों का मूल्यांकन होगा।