परिषदीय विद्यालय बंद मिलने पर पूरे स्टाफ का एक महीने का वेतन काटा


ललितपुर। जिला बेसिक शिक्षाधिकारी रामप्रवेश ने शुक्रवार को विकासखंड जखौरा में संचालित परिषदीय प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया, जिसमें विद्यालय बंद मिलने पर शिक्षकों का वेतन रोक दिया।


बीएसए शुक्रवार सुबह 9.05 बजे अंग्रेजी माध्यम प्राथमिक विद्यालय सिरसी (जखौरा) पहुंचे जहां विद्यालय बंद मिला। जिस पर उन्होंने विद्यालय में कार्यरत प्रधान अध्यापिका प्रीति पटेल, सहायक अध्यापिका वंदना वर्मा, सुनीता गुर्जर, संगीता पाठक, अरूणा कन्नौजिया का एक माह का वेतन रोक दिया, जबकि शिक्षा मित्र अंजना नामदेव शिक्षामित्र, दयालीराम, मोहन का अनुपस्थित दिवस का मानदेय काटा जाता है। बीएसए ने सभी से एक सप्ताह में स्पष्टीकरण मांगा है। उच्च प्राथमिक विद्यालय सिरसी के निरीक्षण में अनुपस्थित कर्मचारियों से स्पष्टीकरण देने को कहा। प्राथमिक विद्यालय पुनियाखेरा के निरीक्षण में विद्यालय बंद पाया गया, जिस पर उन्होंने इंचार्ज प्रधान अध्यापक अश्विनी कुमार वर्मा, सहायक अध्यापक शिवकुमार पाल का एक माह का वेतन अवरुद्घ कर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। प्राथमिक विद्यालय चक के निरीक्षण में शिक्षामित्र किरन कुमारी, सुजान सिंह एवं हेमलता अनुस्थित मिली, जिस पर उन्होंने एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। संविलियन सीरोनकलां का भी निरीक्षण किया। कंपोजिट विद्यालय सीरोनखुर्द,कंपोजिट विद्यालय मनगुंवा का निरीक्षण भी किया। उन्होंने विद्यालयों में अध्यापकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।