बीएसए ने प्रधानाध्यापिका व सहायक अध्यापक निलंबित कर कईयों का वेतन रोका, जानें पूरा मामला


फिरोजाबाद। बीएसए ने मंगलवार को प्राथमिक विद्यालयों में तैनात प्रधानाध्यापकों, शिक्षकों व शिक्षामित्र पर विद्यालय बंद मिलने, निर्धारित समय पर विद्यालय में उपस्थित नहीं होने जैसी अनियमितता के चलते कार्रवाई की हैं। एक प्रधानाध्यापिका, एक सहायक शिक्षक को निलंबित करने के साथ ही कई अन्य का वेतन रोका गया है।





बीएसए अंजली अग्रवाल ने मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय गाजीपुर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय विद्यालय बंद मिला। ग्रामीणों ने प्रधानाध्यापिका मुस्तकी आफशां पर विद्यालय में यदाकदा उपस्थित रहने एवं विद्यालय परिसर में लगे पेड़ों को कटवाकर उसकी धनराशि के हेरफेर का आरोप लगाया। बीएसए ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच में प्रधानाध्यापिका पर लगे आरोप सही मिले हैं। प्रधानाध्यापिका को तत्काल निलंबित करने एवं शिक्षिका हुमेरा एवं शिक्षामित्र सुनीता कुशवाहा का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं।




प्राथमिक विद्यालय जमालपुर पहुंची बीएसएस को शिक्षिका संवेदना शर्मा, नीतू गौतम, ललिता एवं शिक्षामित्र अनुपम कुमारी अनुपस्थित मिलीं। सभी का वेतन रोका गया है। बीएसए ने अनियमितता के चलते प्राथमिक विद्यालय दरकपुर खैरगढ में तैनात शिक्षक धर्मप्रताप को भी निलंबित कर दिया। निर्धारित समय पर अनुपस्थिति के चलते बीएसए ने प्राथमिक विद्यालय जहांगीरपुर में तैनात शिक्षामित्र नीरज पांडे का भी वेतन रोका है।