हुनर:- परिषदीय स्कूल के छात्र ने कबाड़ से तैयार की धान मडाई की मशीन


बहराइच): सोच हो और प्रयोग करने की इच्छाशक्ति तो कुछ भी असंभव नहीं है। ऐसा ही कर दिखाया है पूर्व माध्यमिक विद्यालय बटुरहा के कक्षा सात के छात्र सुफियान ने। उसने गत्ता व कबाड़ से थ्रेशर मशीन बना डाली। यह थ्रेसर धान की मड़ाई में सक्षम है। कृषि विज्ञान विषय के शिक्षक संतकुमार चौबे के मार्गदर्शन में उसने मशीन तैयार की।


13 वर्षीय सुफियान का कहना है कि उसे स्कूल में कृषि विज्ञान विषय के शिक्षक संतकुमार चौबे के मार्गदर्शन में तकनीकी प्रयोग करने की प्रेरणा मिली। इसी बीच मन में विचार आया कि धान की मड़ाई को लेकर किसानों को मशीन की कमी से ज्यादा श्रम करना पड़ता है। ऐसे में क्यों न एक मशीन तैयार की जाए, जिसकी मदद से धान की मड़ाई करना आसान हो। इसके बाद सुफियान ने स्कूल में सीखे गए अपने कौशल का इस्तेमाल कर कबाड़ से जुगाड़ का बेहतर इस्तेमाल कर दिखाया है। गत्ते की दफ्ती, साइकिल की तीली, एक पेंट का डिब्बा, बोतल, मोबाइल की बैटरी से धान मड़ाई की मशीन तैयार की। इस मशीन से धान की मड़ाई में आने वाली कठिनाइयों को दूर किया जा सकता है। उसका कहना है कि इस तरीके से बड़ी मशीन तैयार की जा सकती है।

बोले शिक्षक शिक्षक संतकुमार : चौबे ने बताया कि शिक्षा का मकसद केवल अंकों की परीक्षा पास करना ही नहीं, बल्कि पढ़ाई के साथ-साथ नए-नए कौशल सीखना और उनका विकास करना भी है। सुफियान ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर दिखा दिया कि कबाड़ से भी अच्छा कार्य संभव है।

ब्लाक मुख्यालय पर प्रमुख प्रतिनिधि रणवीर सिंह मुन्ना एवं खंड विकास अधिकारी अशोक कुमार सिंह को छात्र ने शिक्षक के साथ अपना हुनर दिखाया तो उन्होंने नकद पुरस्कार देकर छात्र का उत्साहवर्धन किया। छात्रों की प्रतिभा को निखारने के लिए शिक्षक की सराहना की। इस मौके पर प्रधान इस्माइल अंसारी, कुलदीप मिश्र, जगदीश पाल, आनंद प्रकाश शुक्ल, श्रवण मौजूद रहे।