मिड-डे मील की कन्वर्जन कॉस्ट हड़पने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक निलंबित , ऐसे किया अन्य मदों भी खेल

हाथरस।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय सासनी के प्रभारी प्रधानाध्यापक संजय कुमार शर्मा को एमडीएम की कन्वर्जन कॉस्ट हड़पने के आरोप पर बीएसए ने निलंबित कर दिया है। आरोप है कि फर्नीचर मद के 4,54,920 रुपए को विद्यालय प्रबंध समिति के खाते से संजय कुमार शर्मा इंप्रअ एवं उक्त विद्यालय में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महावीर के साथ मिलकर रुपए हड़प लिए।

22 जुलाई को दो खंड शिक्षा अधिकारियों की जांच समिति गठित कर जांच कराई गई। जांच में पाया गया कि संजय कुमार ने सितंबर में संबंधित खाते में धनराशि को जमा करने के बाद 15 सितंबर को आरटीजीएस द्वारा 4,47,244 रुपए का भुगतान संबंधित फर्म को किया है।

लेकिन फर्नीचर मद की धनराशि को निकाल कर अपने निजी हक में खर्च करने एवं संबंधित फर्म को भुगतान के लिए दिए चार बार चेकों के खाते में धनराशि के अभाव में बाउंस हो जाने व अन्य के संबंध में नोटिस दिया गया, जिसका उत्तर नहीं दिया गया। जांच को भ्रमित करने के उद्देश्य से विद्यालय में कंप्यूटर सिस्टम, दो गैस सिलिंडर व गैस चूल्हा, एक एसी 1.5 टन के चोरी होने संबंधित कूट रचित कथन अंकित किया गया।
जबकि ये विद्यालय नगर पंचायत सासनी में होने के कारण पिछले सात सालों से एनजीओ द्वारा एमडीएम का वितरण किया जाता है। ऐसी स्थिति में गैस सिलिंडर व गैस चूल्हा और विद्यालय में 1.5 टन किस अधिकारी की अनुमति से किस उद्देश्य से क्रय कर लगाई, इस बारे में नहीं बताया गया।
खंड शिक्षा अधिकारी सासनी ने बताया कि पूर्व माध्यमिक विद्यालय सासनी में नामांकित विद्यार्थियों के अभिभावकों के खाते में एमडीएम कन्वर्जन कॉस्ट की धनराशि नहीं भेजी गई। इसकी जानकारी एमडीएम खाते का बैंक स्टेटमेंट निकलवाने पर हुई। छात्रों के अभिभावकों के खाते में 76 दिन, 49 दिन, 124 दिन की कन्वर्जन कॉस्ट की धनराशि नहीं भेजी गई।
इस धनराशि 17 जून 2021 से 13 अगस्त 2021 तक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक संजय कुमार शर्मा द्वारा स्वयं 3,82,000 एवं अजय तोमर अनुदेशक द्वारा 70,500 रुपए व महावीर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी द्वारा 1,10,000 रुपए कुल धनराशि 5,62,500 रुपए निकलवा कर हड़प कर लिए।
विद्यालय के खाते से नियम विरुद्ध आहरित कराकर गबन करने एवं अन्य आरोपों को लेकर बीएसए ने संजय कुमार शर्मा को निलंबित किया है। आरोपों की जांच के लिए उदित कुमार, खंड शिक्षा अधिकारी सिकंदराराऊ एवं विपिन कुमार, खंड शिक्षा अधिकारी सहपऊ को संयुक्त रूप से जांच अधिकारी नामित किया जाता है। निलंबन अवधि में संजय कुमार शर्मा खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय सिकंदराराऊ से संबद्ध किया गया है।