शिक्षामित्र, अनुदेशक और रसोइयों को मिलेगी पेंशन, इस तरह मिलेगा लाभ


फतेहपुर। बेसिक शिक्षा विभाग में संविदा और अंशकालीन कर्मचारियों को पेंशन मिलेगी। 59 साल से कम आयु वाले इन कर्मचारियों के मानदेय से जल्द ईपीएफ कटौती शुरू हो जाएगी। | योजना से जिले के 8782 कर्मचारी लाभान्वित होंगे। सबसे अधिक लाभ 1500 रुपये टैब. मासिक मानदेय पाने वाली रसोइयों को मिलेगा। इन कर्मचारियों का डाटा ई-श्रम पोर्टल में 21 दिसंबर तक अपलोड करना है






शिक्षा विभाग में संविदा और अंशकालीन कर्मचारियों की लंबी फौज है। मध्यान्ह भोजन बनने के लिए रसोइयां, पढ़ाने के लिए |शिक्षामित्र और अनुदेशकों की नियुक्ति है। इस योजना का लाभ 15000 से कम मानदेय पाने वाले कर्मचारियों को दिया जाना है। वर्तमान में रसोइयों को 1500 रुपये, शिक्षामित्रों को 10000, अनुदेशकों को सात हजार रुपये मानदेय मिल रहा है। इन तीनों कर्मचारियों की कुल संख्या 8782 है। इसके लिए श्रम मंत्रालय ने ई-श्रम पोर्टल तैयार किया है। इन सभी कर्मचारियों का डाटा 21 दिसंबर तक इस पोर्टल में अपलोड किया जाना हैं। इसके लिए बीएसए संजय कुशवाहा ने बीईओ को पत्र जारी कर दिया है।



बीएसए संजय कुशवाहा ने बताया कि श्रम विभाग का पत्र आया है, जिसमें 21 दिसंबर तक इन कर्मचारियों के डाटा फीड कराने को कहा गया है। श्रम विभाग से जारी पत्र के अनुपालन में बीईओ को पत्र भेजे गए हैं।