मजाक बनी शिक्षा व्यवस्था: शिक्षामित्र बहन ससुराल में, भाई स्कूल में कर रहा हस्ताक्षर


चंदौली/नौगढ़: जिले के प्रसिद्ध विद्यालयों में शिक्षा व्यवस्था का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शिक्षक, शिक्षामित्र गैर हाजिर है। फिर भी उनकी उपस्थिति दर्ज की जा रही है। अधिकारियों के सामने ऐसा मामला संपूर्ण समाधान दिवस में ग्रामीणों की शिकायत पर आया ‌‌ ।


ग्रामीण के अनुसार एक ही विद्यालय में भाई-बहन शिक्षा मित्र हैं। बहन ससुराल रहती है तो ऐसे में भाई उसकी हाजिरी लगा देता है वही एक शिक्षक दोस्त अपने दूसरे दोस्त के गैरहाजिर रहने पर उसकी हाजिरी लगा रहा है। सीडीओ ने शिकायत के बाद स्थानीय अधिकारियों को फटकार लगाई और मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आदेश दिया।

संपूर्ण समाधान दिवस में 16 अक्टूबर को नौगढ़ तहसील में मुख्य विकास अधिकारी अजीतेंद्र नारायण के समक्ष गांव निवासी गोविंद सहित कई ग्रामीण उपस्थित होकर लिखित शिकायत किए ‌‌ । इसमें शिक्षकों के अनुपस्थित रहने पर उनकी उपस्थिति दर्ज होने की शिकायत की गई ‌‌बताया प्राथमिक विद्यालय पहाड़िया में तैनात महिला शिक्षामित्र ससुराल में है उसका भाई जो उसकी विद्यालय में है बहन का फर्जी दस्तखत बना उसे उपस्थित करता है। प्राथमिक विद्यालय जमशेदपुर में तैनात अध्यापक अक्सर विद्यालय नहीं आते लेकिन उनकी उपस्थिति दर्ज होती रहती है। कभी-कभी प्रधानाध्यापक भी नहीं आते। प्राथमिक विद्यालय पहाड़िया की हेड मास्टर प्रवीण घन से जब हकीकत पूछी गई तो उन्होंने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया।

स्कूल से गायब रहने वाले दोनों विद्यालय की शिक्षक समेत दोनों प्रधानाध्यापक को भी कारण बताओ नोटिस जारी की जाएगी क्योंकि बिना प्रधानाध्यापक के मिलीभगत से ऐसा खेल नहीं हो सकता। जांच के बाद दोषियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी। – अवधेश नारायण सिंह एबीएसए ब्लॉक नौगढ़।


किसी भी हाल में ऐसी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी हर हाल में शिक्षकों को स्कूल में ड्यूटी देनी होगी ऐसा नहीं करने ग तो उन पर उचित कार्रवाई होगी लेकिन पहले जो इस बात की जानकारी की जाएगी कि इतने गंभीर मामले में प्रधानाध्यापक, एबीएसए क्या कर रहे थे। – सत्येंद्र कुमार बीएसए