अधिकारियों की संपत्तियों का ब्योरा किया तैयार

 प्रयागराज : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) की 2012 से 2016 तक की भर्तियों की जांच सीबीआइ कर रही है। जांच के बीच प्रतियोगियों ने आयोग के कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों की संपत्तियों का ब्योरा तैयार किया है, जिसे सीबीआइ सहित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजा


जाएगा। प्रतियोगी छात्रों ने संपत्तियों का जो ब्योरा जुटाया है, उसमें दर्जनभर से अधिक अरबों के मालिक बताए जा रहे हैं, जिन्होंने खुद के बजाय पत्नी, बेटी, बेटा और रिश्तेदारों के नाम से संपत्तियां खरीदी हैं। सुल्तानपुर, लखनऊ, मथुरा, मैनपुरी, आगरा, गोरखपुर, प्रतापगढ़ सहित अनेक जिलों में संपत्तियां मिली हैं। इसके साथ ही एपीएस-2010 भर्ती में अधिकारियों के 20 रिश्तेदारों का चयन कराने का दावा किया जा रहा है। प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष अवनीश पांडेय कहते हैं कि जांच तेजी से कराने की मांग को लेकर हाई कोर्ट में याचिका भी दाखिल की गई है।