शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर साल्वर ने हल किया था पेपर, दूसरे अभ्यर्थियों को भी देने की आशंका


प्रयागराज : शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर साल्वर वीरेंद्र कुमार ने र हल किया था। भारत स्काउट एंड गाइड इंटर कालेज के भीतर जब तक आकांक्षा परीक्षा दे रही थी, तब तक केंद्र के बाहर ही उपप्रधानाचार्य आकाश खरे, प्रधानाचार्य का बेटा । अनुग्रह व साल्वर मौजूद थे। मामले र की जांच कर रही एसटीएफ को यह जानकारी मिली है। इस आधार पर आशंका जताई जा रही है कि पेपर हल करने के बाद दूसरे अभ्यर्थियों को दिया जा सकता है।


उधर, इस प्रकरण को लेकर स्कूल में गुटबाजी शुरू हो गई है। कुछ लोगों ने कीडगंज पुलिस से प्रधानाचार्य व सहायक अध्यापक को फर्जी ढंग से फंसाने का आरोप लगाया है। प्रधानाचार्य रामनयन द्विवेदी के कहने पर सहायक अध्यापक अशोक तिवारी ने सुबह साढ़े नौ बजे पर्चा का लिफाफा खोला। इसके बाद मोबाइल में फोटो खींचकर स्कूल से बाहर निकला और आकाश खरे व अनुग्रह के वाट्सएप पर भेजकर लौट आया। फिर उसने वाट्सएप पर भेजे गए पर्चे को डिलीट कर दिया था। कहा यह भी जा रहा है कि पेपर लीक होने की जानकारी मिलने के बाद एसटीएफ और पुलिस की टीम भारत स्काउट एंड गाइड स्कूल समय पर नहीं पहुंच पाई थी। उनके मोबाइल की काल डिटेल और लोकेशन से पता चला है कि साल्वर के साथ आकाश व अनुग्रह परीक्षा केंद्र के पास कई घंटे थे। इस परीक्षा के बाद साक्षात्कार नहीं होना था। ऐसे में माना जा रहा है कि पेपर लीक करके कुछ और अभ्यर्थियों को भी लाभ पहुंचाया गया होगा।