रुपये लेकर शिक्षक भर्ती का आरोप, मामला सीएम तक पहुंचा

चित्रकूट। जिले में संस्कृत विद्यालयों में शिक्षकों की भर्ती मामले में कुछ विद्यालयों के प्रबंधकों ने मुख्यमंत्री व जिलाधिकारी को लिखे पत्र में उच्च स्तरीय जांच कराकर नए सिरे से चयन प्रक्रिया कराने की मांग की है।


जिला मुख्यालय के श्रीगंगा प्रसाद जनसेवा इंटर कालेज के सभागार में 18 अक्तूबर से 23 अक्तूबर तक चली संस्कृत विद्यालय के मानदेय शिक्षकों की भर्ती का साक्षात्कार खत्म हो चुका है। कुल दस विद्यालय के लिए 24 पदों की भर्ती में पूर्व विधायक दिनेश मिश्रा ने आरोप लगाये कि साक्षात्कार प्रक्रिया पक्षपातपूर्ण रही। पारदर्शिता का अभाव रहा है।

बियावल मऊ के श्री भागवत मंडल संस्कृत विद्यालय के प्रबंधक मिथिला पांडेय ने सीएम डीएम को लिखे पत्र में आरोप लगाया कि रुपये लेकर चहेतों की भर्ती की गई है। पहाड़ी क्षेत्र के निवासी एक शिक्षक जो इस समय महोबा जिले में तैनात हैं उनपर खुलेआम रुपये लेकर विषय विशेषज्ञ की जगह चहेतों की भर्ती का आरोप लगा। जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ल ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उन्होंने डीआईओएस बलिराज राम से पूरे मामले की जानकारी मांगी है।
ये भी पढ़ें...