शिक्षक-कर्मचारियों के बुढ़ापे को सुरक्षित करती है पुरानी पेंशन


देवरिया :- शिक्षक कर्मचारी संघर्ष समिति की बैठक रविवार को महाराजा अग्रसेन इंटर कालेज के सभागार में हुई। इसमें पुरानी पेंशन बहाली, जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में लंबित समस्याओं के निस्तारण व संगठन को मजबूत बनाने पर चर्चा की गई। संयोजक उमाशंकर ज्ञात श्रीवास्तव ने कहा कि पुरानी पेंशन व्यवस्था न केवल शिक्षक कर्मचारियों का सम्मान बहाल करतीहै बल्कि उसके बुझाने को भी सुरक्षित करती है। यदि शिक्षक अपने हितों के साथ संगठन के प्रति जागरूक नहीं रहे तो संघर्षों से प्राप्त उपलब्धियां समाप्त हो जाएगी। 




पूर्व जिलाध्यक्ष अजीत कुमार त्रिपाठी ने कहा कि शिक्षक हित के लिए संगठन का निर्माण हुआ है। संगठन हित के लिए व्यक्तिगत हित को त्यागना होगा अटेवा के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश कुशवाहा ने कहा कि अगर विधान परिषद के शिक्षक व विधायक सजग होते तो पुरानी पेंशन समाप्त नहीं होती चीही पांडेय ने कहा कि शिक्षक कर्मचारी संघर्ष समिति का का उद्देश्य पुरानी पेंशन बहाल कराना है। बैठक में तिथि तय कर पुरानी पेंशन बहाली की मांग के लिए एक दिवसीय मौन उपवास रखने व जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में भ्रष्टाचार के खिलाफ 21 सदस्यीय कमेटी गठित कराने का निर्णय लिया गया। इस दौरान प्रेमचंद्र मिश्र, घनश्याम तिवारी, विपिन कुमार श्रीवास्तव, सुरेंद्र सिंह, अवधेश सिंह, रामकृपाल विवारी, शैलेंद्र सैनी, राजेश कुमार, हरिहर आदि मौजूद रहे।