एआरपी / एसआरजी ने लामबंद जांच की मांग को लेकर बीएसए दफ्तर पर किया प्रदर्शन


बलरामपुर। एआरपी / एसआरजी ने लामबंद होकर शुक्रवार को बेसिक शिक्षा कार्यालय परिसर में प्रदर्शन कर विरोध जताया। एआरपी/एसआरजी के खिलाफ बिना हस्ताक्षर के फर्जी शिकायत किए जाने से भारी आक्रोश है। फर्जी तरीके से की गई शिकायत की जांच कराकर कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की गई है। जिले में मिशन प्रेरणा को परवान चढ़ाने का जिम्मा 50 एआरपी / एसआरजी के कंधों पर है। फर्जी शिकायत करने वाले खिलाफ कार्रवाई न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई है।

एकेडमिक रिसोर्स पर्सन एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष पंकज कुमार पांडेय, जिला महामंत्री संतोष त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष मलिक मुनव्वर अली, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अरुण कुमार त्रिपाठी, उपाध्यक्ष अजय कुमार सोनकर, वेदमणि त्रिपाठी, सीमा जायसवाल, संयुक्त मंत्री नीरज पांडेय, संगठन मंत्री कमाल अहमद, कल्लू अंसारी, अरुण कुमार मिश्र व अवधेश मिश्र आदि ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि जिले में 46 एआरपी व चार एसआरजी को स्कूलों के मिशन प्रेरणा को परवान चढ़ाने का जिम्मा सौंपा गया है। सभी एआरपी व एसआरजी पूरी जिम्मेदारी के साथ स्कूलों में मिशन प्रेरणा को संचालित कराने में योगदान दे रहे हैं। अराजक तत्वों की तरफ से मिशन प्रेरणा की सफलता में बाधा पहुंचाने का कुचक्र किया जा रहा है। बिना हस्ताक्षर के एआरपी व एसआरजी के खिलाफ झूठी शिकायत की गई जिसे लेकर सभी एआरपी व एसआरजी में भारी आक्रोश है। इन लोगों ने बीएसए से मामले की जांच कराकर फर्जी शिकायत करने वाले अराजक तत्व के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की है। बीएसए डॉ. रामचंद्र ने शिकायत के मामले की जांच कराकर उचिक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। धरने में उपस्थित अजीत पांडेय, अशोक मिश्र, कल्लू भारती व धीरेन्द्र बहादुर आदि एआरपी / एसआरजी ने आक्रोश जताया।