अब कस्तूरबा की छात्राओं के अभिभावकों के खाते में भी भेजी जाएगी धनराशि

गाजीपुर। परिषदीय विद्यालयों के बच्चों की तरह अब कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय की छात्राओं को नि:शुल्क यूनिफार्म, स्वेटर, जूता-मोजा एवं स्कूल बैग खरीदने के लिए धनराशि डीबीटी के माध्यम से उनके अभिभावकों के खातों में उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए उनके माता-पिता या अभिभावकों के आधार से लिंक बैंक खातों को फीड करने का कार्य किया जा रहा है।


बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार की ओर से तमाम जतन किए जा रहे हैं। इस क्रम में जिले के सोलह में से चौदह विकासखंडों में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों का निर्माण कराया गया है। इनमें कक्षा छह से आठ तक की छात्राओं को नि:शुल्क आवासीय शिक्षा दी जा रही है। शासन की ओर से परिषदीय विद्यालय के छात्र-छात्राओं की तरह इन स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं को भी हर वर्ष दो जोड़ी यूनिफार्र्म, जूता-मोजा, बैग नि:शुल्क रुप में दिया जाता था। इस वर्ष सरकार ने परिषदीय विद्यालय के छात्रों को यूनीफार्म, जूता-मोजा, बैग देने के बजाए उनके अभिभावकों के खातों में निर्धारित धनराशि उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। इसी क्रम में अब आवासीय बालिका विद्यालय की छात्राओं के माता-पिता या अभिभावकों के आधार से लिंक बैंक खाते में भी धनराशि भेजी जाएगी। इस संबंध में जिला समन्वयक बालिका शिक्षा हरिश्चंद्र यादव ने बताया कि माता-पिता एवं अभिभावकों के खातों को फीड करने का कार्य किया जा रहा है। जल्द खातों को फीड करने का काम पूरा कर लिया जाएगा।
ये भी पढ़ें...