त्योहार पर त्योहार निकलते जा रहे, पर समय से वेतन नहीं मिल पा परिषदीय शिक्षकों को, आक्रोश


पीलीभीत:-

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के परिषदीय प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक-शिक्षिकाओं को सितंबर महीने के वेतन का भुगतान नहीं हो पा रहे हैं। त्योहार पर त्योहार निकलते जा रहे हैं, लेकिन कार्रवाई आगे नहीं बढ़ पा रही है। जनपद के 1503 प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पांच हजार से अधिक शिक्षक-शिक्षिकाएं कार्यरत है, जो पौने दो लाख बच्चों को आधारीय शिक्षा देने का काम करते हैं। नियम है कि प्रत्येक महीने की पहली तारीख को शिक्षक-शिक्षिकाओं के खाते में वेतन आ जाना चाहिए, लेकिन हर महीने विलंब होता है। वित्त एवं लेखाधिकारी अंजू सिंह के तबादले के बाद व्यवस्था पटरी से उतर गई है।
एक कर्मचारी के धनराशि लेने का वीडियो वायरल होने के बाद दो कर्मचारियों की तैनाती की गई थी। इसके बावजूद परिषदीय शिक्षक-शिक्षिकाओं का वेतन का भुगतान नहीं हो सका है। वेतन भुगतान न होने से त्योहार को जैसे-तैसे मना रहे हैं। आने वाले दिनों में धनतेरस, दीपावली त्योहार आने वाले हैँ। ऐसे में वेतन भुगतान की कार्रवाई तेज की जानी चाहिए। उत्तर प्रदेश महिला शिक्षक संघ की जिलाध्यक्ष अनीता तिवारी ने बताया कि वेतन भुगतान करने की एक तिथि निश्चित कर दी जाए, जिससे शिक्षक-शिक्षिकाओं को परेशानी नहीं होगी। नियमत: प्रत्येक माह की पहली तारीख को वेतन भुगतान हो जाना चाहिए। वेतन भुगतान को लेकर काफी समय से समस्या चली आ रही है। इस दिशा में सकारात्मक कार्रवाई किए जाने की आवश्यकता है।