शिक्षकों ने कलेक्ट्रेट मेें किया हंगामा, गलत तरीके से शिक्षकों पर कार्यवाही करने पर शिक्षकों में उबाल: कई को हिरासत में लिया

अंबेडकरनगर। परिषदीय विद्यालय से जुड़े शिक्षकों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पहुंच कर हंगामा कर दिया। वे अवकाश या अन्य ड्यूटी पर मौजूद शिक्षकों को निरीक्षण में अनुपस्थित कर दिए जाने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। वहां भीड़ के साथ डीएम से मुलाकात पर जोर देने को लेकर बात बिगड़ गई। कोतवाली पुलिस ने पहुंचकर कई शिक्षकों को हिरासत में ले लिया। बाद में उनकी डीएम से मुलाकात कराई गई।


बीते दिनों जिला प्रशासन के निर्देश पर 1500 से अधिक परिषदीय विद्यालयों की एक ही दिन आकस्मिक जांच हुई थी। इसमें उन शिक्षकों को भी गैरहाजिर दिखा दिया गया जो नियमत: अवकाश पर थे या अन्य राजकीय ड्यूटी पर। इसी में उनकी वेतन कटौती का आदेश निर्गत हो जाने के चलते विभिन्न शिक्षक संगठनों के पदाधिकारी अन्य शिक्षकों के साथ डीएम से मिलने कलेक्ट्रेट पहुंच गए। वहां सबको प्रवेश की अनुमति न मिलने को लेकर गेट पर खड़े पुलिस कर्मियों से विवाद हो गया।

शिक्षक नेताओं ने अभद्रता का आरोप लगाते हुए आक्रोश जताना शुरू कर दिया। इसके बाद सभी शिक्षक डीएम कक्ष के सामने धरने पर बैठ गए। कुछ ही देर में कोतवाली पुलिस समेत कई अधिकारी पहुंच गए। कई शिक्षक नेताओं को हिरासत में ले लिया गया। इससे काफी देर तक अफरातफरी का माहौल बना रहा। बाद में स्थिति को सामान्य कराते हुए शिक्षक नेताओं की डीएम से मुलाकात कराई गई। उधर कोतवाल अमित सिंह ने बताया कि कुछ शिक्षक अनायास हंगामा कर रहे थे। उन्हें शांत कराया गया। किसी से कोई अभद्रता नहीं हुई