यूपी-टीईटी में एनआईओएस डीएलएड को शामिल करने का विरोध

एनआईओएस से डीएलएड करने वाले प्रशिक्षुओं को यूपी-टीईटी में शामिल करने के विरोध में दो वर्षीय डीएलएड अभ्यर्थियों ने सोमवार को परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। सचिव को ज्ञापन सौंपकर नई शिक्षक भर्ती परीक्षा का प्रस्ताव भेजने का भी अनुरोध किया।


दो वर्षीय पूर्णकालिक डीएलएड करने वाले अभ्यर्थियों का कहना है कि यह प्रशिक्षण परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से कराया जाता है। डीएलएड का पूर्णकालिक प्रशिक्षण करके करीब 5 लाख प्रशिक्षित बेरोजगार है। तीन साल से बेसिक में कोई भर्ती नहीं आई। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के संशोधन के बाद वैसे ही प्राथमिक स्कूलों की शिक्षक भर्ती में शामिल कर लिया गया है। एनआईओएस डीएलएड को भी यूपी-टीईटी में मौका मिल गया। इसके खिलाफ पूर्णकालिक कोर्स करने वालों ने हाईकोर्ट जाने का निर्णय लिया है।