विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

वेतन विसंगति व पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग को लेकर प्राथमिक शिक्षकों का धरना


वेतन विसंगति व पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग को लेकर प्राथमिक शिक्षकों का धरना



गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश के प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले प्राथमिक शिक्षकों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया और 7 सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा। ज्ञापन में पुरानी पेंशन बहाल करने और वेतन विसंगतियां दूर करने की मांग की गई है। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष रविंद्र राणा ने बताया कि उत्तर प्रदेश के पथमिक शिक्षक संघ शासन व विभाग को शिक्षकों की लंबित समस्याओं को लेकर कई बार अवगत करा चुका है, लेकिन शिक्षकों की समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। जिसके चलते सोमवार को मजबूर होकर शिक्षकों को धरना देना पड़ा। जिलाध्यक्ष रविंद्र राणा ने पुरानी पेंशन बहाल करने पर जोर दिया। इसके साथ ही 1 दिसंबर 2008 के बाद पदोन्नत हुए प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय व सहायक अध्यापकों पूर्व माध्यमिक विद्यालय को 17140 रुपए का न्यूनतम वेतन व प्रधानाध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय को 18150 रुपए का न्यूनतम वेतन देने की मांग की। संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष डॉ अनुज त्यागी ने प्रदेश के शिक्षकों को कैशलेस चिकित्सा सुविधा प्रदान करने की मांग की। इसके अलावा मृतक आश्रित के पाल्यों को योग्यतानुसार नियुक्ति प्रदान करें और मृतक आश्रित नियुक्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को योग्यता अनुसार उचित पद पर समायोजित करने की मांग की। प्रदेश के विभिन्न जनपदों के शिक्षकों का चयन वेतनमान के बाद वेतन विसंगति है। जिसमें वरिष्ठ शिक्षक, कनिष्ठ शिक्षकों से कम वेतनमान पा रहे हैं। इनका वेतन विसंगति शासनादेश जारी किया जाए। धरने में मुख्य रूप से आदेश मित्तल, मनोज कुमार, दिनेश कुमार, अमित कुमार, अमित यादव, अनूपमा रानी, प्रवीण कुमार, अर्चना, नूतन चौहान, रविंद्र शर्मा व प्रमोद सिरोही आदि शामिल रहे।

primary ka master