विशेष नोट व स्पष्टीकरण:-👉 Updatemarts.com नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट से सावधान रहें, ये सभी नकली हैं, 🙏वेबसाइट प्रयोग करते समय Updatemarts के आगे डॉट .com अवश्य चेक कर लें, धन्यवाद

प्रेरणा DBT एप पर डेटा फिडिंग के विरोध में शिक्षकों का प्रदर्शन, बेसिक शिक्षा मंत्री को संबोधित पत्रक बीईओ को सौंपा

रुद्रपुर। छात्रों के अभिभावकों के खाते में धन भेजने को लेकर जारी डीबीटी एप पर विवरण फिडिंग का शिक्षकों ने विरोध जताया। शुक्रवार को ब्लॉक संसाधन केंद्र पर जुटे शिक्षकों ने नारेबाजी की। उन्होंने डीबीटी एप पर शिक्षकों से फिडिंग कराए जाने का विरोध करते हुए कंप्यूटर ऑपरेटरों से कार्य कराने को कहा। शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा मंत्री को संबोधित पत्रक बीईओ जया राय को सौंपा।


पूर्व माध्यमिक जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष राकेश कुमार ने कहा कि परिषदीय स्कूलों में तैनात शिक्षकों पर गैर शैक्षणिक कार्य का बोझ डाला जा रहा है। जिससे शिक्षक शिक्षण कार्य छोड़ तनाव में फिडिंग, सूचना, बीएलओ आदि कार्य कर रहा है। शिक्षक गैर शैक्षणिक कार्य नहीं करेंगे। प्रदेश सरकार की ओर से छात्रों के अभिभावकों के खाते में जूता, मोजा, यूनिफॉर्म आदि की धनराशि भेजे जाने के लिए डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर एप लागू किया गया है जिसमें छात्रों से संबंधित समस्त विवरण भरने के लिए शिक्षकों पर दबाव बनाया जा रहा है। जबकि विभाग में फिडिंग कार्य के लिए हर बीआरसी पर कंप्यूटर ऑपरेटर तैनात है। बिना वजह शिक्षकों का मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है। यदि डीबीटी एप पर शिक्षकों से फिडिंग कार्य बंद नहीं हुआ तो सड़क पर उतर आंदोलन होगा।

इस अवसर पर मंत्री लक्ष्मण, उपाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार कुशवाहा, विंध्वासिनी पांडेय, दिनेश सिंह, सुधाकर गुप्ता, ओम प्रकाश शुक्ला, सुशीला देवी, छत्रपाल सिंह कुशवाहा, शशिकला जायसवाल, विजय तिवारी, रमाकांत सोनकर, उषारानी यादव, रंभा गोड़ आदि मौजूद रहे।
जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ ने बीईओ को दिया ज्ञापन
बरहज/भलुअनी। जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के नेतृत्व में बरहज और भलुअनी ब्लॉकों में अध्यापकों ने बीईओ को ज्ञापन दिया। वे डीबीटी में कराई जा रही डाटा फीडिंग में हो रही समस्याओं से नाराज थे।
शुक्रवार को बरहज ब्लॉक अध्यक्ष उमेश चंद्र के नेतृत्व में जूनियर हाईस्कूल के शिक्षकों ने बीईओ लक्ष्मीनारायन, दूसरी ओर भलुअनी में ओमप्रकाश कुशवाहा की अगुवाई में शैलेंद्र कुमार को ज्ञापन दिया। कहा है कि परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्रों के यूनीफार्म, स्वेटर, स्कूल बैक, जूता-मोजा दिया जाना है। इसकी धनराशि खातों में भेजी जाएगी। डीबीटी के तहत डाटा फीडिंग कराई जा रही है। इसमें तरह-तरह की समस्याएं आ रही हैं। उनका यह भी कहना है कि अधिकांश अध्यापक एंड्रॉयड फोन चलाना ही नहीं जानते हैं। सभी ने विभाग से अन्य कर्मियों से फीडिंग कराने की मांग की है। इस दौरान उमेश चंद्र, हेमंत शुक्ल, राजनाथ यादव, जय मल्ल चौहान, ओमप्रकाश, संजय प्रजापति, ओमप्रकाश कुशवाहा, वीरेंद्र कुमार सिंह, डॉ. अरविंद कुमार, धनेश, रविप्रताप नारायण, कमलेश कुमार, ईश्वर चंद तिवारी, हिमांशु सिंह, विवेकानंद मिश्र, मनोज कुमार, शिवानंद यादव, अमित कुमार आदि मौजूद रहे।
शिक्षकों से डाटा फिडिंग कराने के विरोध में दिया ज्ञापन
देवरिया। उत्तर प्रदेशीय पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ की बैतालपुर इकाई के अध्यक्ष कृपा नारायण सिंह एवं मंत्री अशोक कुमार सिंह के नेतृत्व में शुक्रवार को बीआरसी पर बीईओ नवनीत कुमार चौबे को ज्ञापन दिया। पदाधिकारियों ने कहा कि डीबीटी के माध्यम से भेजी जाने वाली धनराशि के संबंध में शिक्षकों से डाटा फीडिंग कराया जा रहा है, यह सरासर अन्याय है। डीबीटी के फीडिंग के कार्य में काफी विसंगतियां हैं। जिससे शिक्षकों का काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। लगभग 20 प्रतिशत शिक्षक ऐसे है जिनके पास एंड्रायड फोन नहीं है। विभागीय कार्य के लिए किसी भी प्रकार का संसाधन लैपटॉप, मोबाइल, नेट आदि की सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराया गया है। डाटा फीडिंग जैसे कार्यों से अनिवार्य शिक्षा अधिनियम 2011 के नियम 27 का उल्लंघन हो रहा है। बच्चों के जन्मतिथि विद्यालय के रिकार्ड एवं आधार में भिन्न है जिसको प्रामाणिक करना कठिन है। बीआरसी स्तर पर उपलब्ध संसाधन एवं कर्मचारियों के माध्यम से यह कार्य कराया जाए। वर्तमान में बहुत से ऐसे शिक्षक है जो आज भी तकनीकी रूप से अप्रशिक्षित है, जिससे उनका ऑनलाइन के नाम पर दोहन किया किया जा रहा है। प्रतिनिधिमंडल में धीरज मिश्रा, बृजेश कुमार राय, रणजीत, नूर फातिमा, अवनीश कुमार यादव, श्रीराम यादव, रेजा देवी, विवेकानंद शर्मा, नीरज शर्मा, धर्मेंद्र सिंह आदि शामिल रहे। उधर इसी संगठन के देवरिया सदर विकास खंड के पदाधिकारियों ने अध्यक्ष श्यामदेव यादव के नेतृत्व में बीईओ को ज्ञापन दिया।
पुरानी पेंशन सहित लंबित मांगों के लिए संघर्ष की रणनीति बनीं
देवरिया। कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच की बैठक शुक्रवार को विकास भवन के गांधी सभागार में हुई। इसमें पुरानी पेंशन बहाली सहित वेतन विसंगति को दूर करने, कैशलेस चिकित्सा सुविधा, पदोन्नति, आश्रितों की नौकरी, सामूहिक बीमा, संविदा पर नियुक्त कर्मचारियों को स्थायी नियुक्ति सहित अन्य लंबित मांगों को पूरा करने के लिए क्रमबद्घ तरीके से आंदोलन चलाने का िनिर्णय लिया गया। अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह ने कहा कि पांच अक्तूबर को संगठन के बैनर तले जिला मुख्यालय पर बाइक जुलूस निकलेगा। संयोजक अशोक पांडेय व सहसंयोजक अवधेश सिंह ने कहा कि जब तक कर्मचारियों की सभी मांगे पूरी नहीं हो जातीं, संघर्ष जारी रहेगा। इस दौरान संरक्षक श्रीराम तिवारी, मनोज पांडेय, सुमंत यादव, अनूप सिंह, रामदेव सिंह, विजयभारत सिंह, लालसा यादव, निर्भय नारायन सिंह, शफीक अहमद खान, रामविलास मणि, रमेश चंद्र त्रिपाठी, शशिभूषण सिंह आदि मौजूद रहेे।