एसटीएफ के निशाने पर 10 और शिक्षक

सीतापुर। बेसिक शिक्षा विभाग में वर्षों से फर्जी अभिलेख लगाकर नौकरी कर रहे शिक्षक एसटीएफ के निशाने पर हैं। जिले में 10 फर्जी शिक्षक मिलने पर एसटीएफ ने बीएसए से इन शिक्षकों के प्रपत्र मांगे है। बीएसए ने प्रपत्र सौंप दिए हैं। बेसिक शिक्षा विभाग में अब तक फर्जीवाड़े के कई मामले सामने आ चुके हैं। अब जल्द ही नए मामले सामने आएंगे।


एफटीएफ को जिले में 10 फर्जी शिक्षक होने की शिकायत मिली है। किसी के हाईस्कूल की मार्कशीट फर्जी है तो किसी की बीएड के प्रपत्र फर्जी होने के संकेत मिले हैं। कई शिक्षकों ने अपनी जन्मतिथि में परिवर्तन कर लिया है। इन शिक्षकों के खिलाफ एसटीएफ को कई पुख्ता शिकायतें मिली हैं।

शुरुआती जांच मेें एसटीएफ को पता चला कि इन लोगों ने मूल अभिलेखों में हेराफेरी की है। अब एसटीएफ ने बीएसए से इन शिक्षकों के अभिलेख मांग कर जांच शुरू कर दी है। संभावना जताई जा रही है कि जल्द ही फर्जी शिक्षक गिरफ्त में लिए जाएंगे।
बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों के फर्जीवाड़े के अब तक कई मामले सामने आ चुके है। एसआईटी 2010 के बाद नियुक्ति शिक्षकों की जांच कर रही है। एसआईटी की जांच में अब तक 10 से अधिक फर्जी शिक्षक मिल चुके है। बेसिक शिक्षा विभाग ने इन शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया था। अब एसटीएफ की जांच में इन फर्जी शिक्षकों की संख्या बढ़ सकती है।
बीएसए अजीत कुमार ने बताया कि एसटीएफ ने 10 शिक्षकों के बारे में विभाग से जानकारी मांगी थी। इनके अभिलेख एसटीएफ को सौंप दिए गए हैं।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇