टीईटी में पेपर लीक करने को 6 माह से टीईटी परीक्षा का इंतजार कर रहा था अलीगढ़ का निर्दोष और गौरव

मेरठ। टीईटी में पेपर लीक कराने की प्लानिंग करीब छह महीने से चल रही थी। गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज करने से पहले एसटीएफ ने आरोपियों के मोबाइल की सीडीआर खंगाली, जिसमें यह बात सामने आई है।
एसटीएफ का कहना है कि अलीगढ़ के गौरव मलान और फरार शिक्षक निर्दोष चौधरी में पेपर लीक कराने केे लेकर लंबी बात होती थी। इस मामले में एसटीएफ ने मनीष उर्फ मोनू, रवि उर्फ बंटी, धर्मेंद्र, राहुल तोमर और गौरव मलान को गिरफ्तार किया है।


वहीं अलीगढ़ में निर्दोष चौधरी और उसके साथियों की तलाश में एसटीएफ मेरठ ने कई जगह दबिश दी है, लेकिन कोई आरोपी हत्थे नहीं चढ़ा है। सीओ एसटीएफ बृजेश सिंह का कहना है कि अभी कई महत्वपूर्ण जानकारी निर्दोष चौधरी से मिल सकती हैं। निर्दोष और गौरव पहले भी सॉल्वर रहे हैं।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇