स्कूलों में प्री-प्राइमरी शिक्षा देने की तैयारी

औरैया। निपुण भारत के तहत बुनियादी साक्षरता को प्रोत्साहन देने के लिए ब्लॉक एरवाकटरा में ईसीसीई क्रियान्वयन कार्यशाला का आयोजन हुआ। जिसमें शिक्षकों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को नई शिक्षा नीति के अनुसार प्री-प्राइमरी कक्षा संचालन की जानकारी दी गई।


ब्लाक सभागार एरवाकटरा में मंगलवार को कार्यशाला का शुभारंभ बीईओ सुधीर कुमार गुप्ता व बाल विकास परियोजना अधिकारी संध्या यादव ने किया। बीईओ सुधीर कुमार गुप्ता ने कहा कि नई शिक्षा नीति के तहत दिए जा रहे प्रशिक्षणों को जिम्मेदारी के साथ लागू करें। कार्यशाला में मिनट-टू-मिनट कार्य योजना के अनुसार शिक्षक संकुल राहुल गुप्ता, नीरज कुमार व संजय कुमार सिंह की ओर से प्री स्कूल किट, गतिविधि एवं शिक्षण अधिगम सहायक सामग्री सृजन का प्रस्तुतीकरण किया गया।

एआरपी नीरज कुमार ने बाल वाटिका व प्रेमचंद्र ने एनईपी 2020 और ईसीसीई के बारे में व सन्दर्भदाता साधना दीक्षित ने बाल वाटिका के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम में डायट प्रवक्ता विनय कश्यप, एसआरजी अलका यादव, सुनील दत्त राजपूत व सौरभ त्रिपाठी ने भी कार्यशाला के बारे में बताया। कार्यशाला में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व शिक्षकों ने छोटे बच्चों को शिक्षा में सहायता के लिए स्वनिर्मित टीएलएम का भी प्रदर्शन किया। इस दौरान एआरपी सोनी शाक्य, केके गौतम, संजय कुमार, नीरज कुमार राजपूत, राहुल गुप्ता व राम कुमार आदि मौजूद रहे।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇