17 May 2020

69000 शिक्षक भर्ती (सुप्रीम कोर्ट) वर्तमान परिदृश्य में सीतापुर टीम का संदेश 16/05/2020


*69000 शिक्षक भर्ती (सुप्रीम कोर्ट)*
*सीतापुर टीम*
*दिनाँक ~16/05/2020*
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩

*🎯वर्तमान परिदृश्य में सीतापुर टीम का संदेश🎯*

प्रदेश के सभी शिक्षामित्र साथियों जैसा कि आप को पता है,कि सुप्रीम कोर्ट में 20 मई 2020 को अपने केस की सुनवाई निश्चित हो गयी है।

         साथियों कल से जैसे ही अपना मामला सुनवाई के लिए लिस्टेड हुआ ,कुछ लोग बिना नाम की पोस्ट डालकर आप को विचलित करने का कार्य करने लगे। और आप  परेशान होने लगे। आखिर यह कौन लोग है,कभी सोचा है आपने ❓

         यह वही लोग है जो खुद पास होकर जल्द से जल्द नियुक्ति पाना चाहते हैं। साथियों कुछ लोग बता रहे ,बेंच सही नही,कुछ बता रहे जज सही नही ,कुछ MCD के ऑर्डर को लेकर परेशान हैं। मैं ऐसे लोगों से प्रश्न करना चाहता हूँ क्या बेंच चेंज होने से यह ऑर्डर 70 पेज के हाईकोर्ट के ऑर्डर से निकाल कर बाहर कर दिया जाता। या कोई हमारे लिए सुप्रीम कोर्ट में स्पेशल जज बैठे है जो कह रहे हैं कि हमारे पास आओ हम तुमको जीत दे देंगे। इसका जवाब चाहिए पूरे प्रदेश को।❓

            *साथियों सीतापुर टीम ने सबसे पहले  पूरे प्रदेश के सभी शिक्षामित्र साथियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए सभी को एक होकर लड़ने की पहल की थी,सभी टीम के मुखिया से फोन पर एक होने की बात कही थी,तब बहराइच टीम और सीतापुर टीम ही एक साथ चलने को तैयार हुई। शेष दो टीमें जो आज माननीय सर्वोच्च न्यायालय पे प्रश्न चिन्ह लगा रही है,वह उस टाइम कहाँ थी ,क्यों उन्होंने बात नही की। मैं बताता हूँ क्यों नही की क्योकि इन टीमो के मुखिया लिखित परीक्षा में पास हो चुके थे,क्योकि इनका उद्देश्य कुछ और ही था। यह हर हाल में यही चाहते हैं,कि किसी तरह से भर्ती पूरी हो जाये और हम कोर्ट कोर्ट खेलते रहें।*

        साथियों आज हम सभी लोग हाईकोर्ट से हारे हुए हैं,जिसका दर्द हर वक्त अपने परिवार को देखकर उभर आता है। क्या आपने कभी हाईकोर्ट में हम क्यों हारे इसकी समीक्षा की ❓❓

       आप सभी लोग जान रहे थे कि हम 100% जीतेंगे। लेकिन हम क्यों हारे, आप लोग शोशल मीडिया पे लिखते हो हमारे साथ राजनीति हुई है। तो यह राजनीति क्यों हुई❓❓

    *मैं आप से जानना चाहता हूं, कि जब हाईकोर्ट में नवम्बर 2019  में अपने केस की सुनवाई श्री इरशाद अली जी की बेंच में चल रहा था। तो कौन बार बार लंबी डेट लेता था,कहीं 15 दिन की ,तो कहीं 10 दिन की ,एक बार तो श्री इरशाद जी ने स्वयं कहा था कि मिस्टर मिश्रा आप केस को फाइनल न करवाकर 2020 तक ले जाना चाहते हो* ,यह बात जो भी लोग उस दिन कोर्ट में मौजूद थे वो जानते है, इसके पीछे कौन जिम्मेदार था❓
*कारण नम्बर 2* - आप सब लोग जानते हो राजनीति बहुत गंदी चीज होती है,और आप हर बार कहते हो कि हमारे साथ राजनीति हुई है ,जब एक आम शिक्षामित्र सरकार के खिलाफ एम एल सी चुनाव लड़ता है,और जितने पोस्टर आज तक किसी भी पार्टी ने नही लगवाये वह लगवाता है,डिबेट में हर बार सरकार को चुनौती देता है,कि पाई कामा चेंज नही होगा। यहां तक कि वही इन्सान लास्ट तक किसी राजनीतिक पार्टी से टिकट ले लेता है। क्या यह एक कारण भूल गए आप❓❓


*कारण नम्बर 3* ~ जिस व्यक्ति ने सुनवाई से पहले एक ऑडियो में अपनी हार सुनिश्चित कर दी हो,जब वह ऑडियो वायरल हुआ तो उसे अपनी रणनीति का हिस्सा बताता है,जबकि यह सच था❓

 *कारण नम्बर ~4*  साथियों जिस टीम का सलाहकर बी एड धारी हो,तथा आज उसके सभी साथी जो कि पास हो चुके हैं ,वह तुम्हारे भविष्य के बारे में भला करने को कैसे  सोच सकते हैं।

  *जो व्यक्ति हमेशा लीडिंग लीडिंग करके लोगो को बरगलाने का कार्य कर रहा है,वह 90 नम्बर पाकर पास हो चुका है,और उसका इस केस से लोकस खत्म हो चुका है*

      साथियों जिस दिन से ऑर्डर आया है,उसी दिन से सरकारी महकमा भर्ती करने को तेजी से आगे बढ़ रहा है,13/05/20 को भर्ती कराने सम्बन्धी अनुभाग 5 से लेटर जारी हो चुका है,17 मई को विज्ञप्ति आ रही है   तथा 2 जून को नियुक्ति पत्र वितरित होने हैं। ऐसे में क्या यह जरूरी नही था,कि जल्द से जल्द सुप्रीम कोर्ट में एस एल पी दाखिल की जाती ,या हाथ पर हाथ रख कर नियुक्ति पत्र वितरित होने की राह देखी जाती।

           साथियों जब सीतापुर टीम और बहराइच टीम की सुनवाई 20 मई 2020 को सुनिश्चित हो गयी तब यह लोग निकल कर आ गए। जब कि इन दोनों टीमो के न तो डायरी नम्बर का पता है,न ही किसी अधिवक्ता का।

         यह इस लिए है,क्योकि इन्होंने लोगों को गुमराह करके याचियों के नाम पर सिर्फ पैसा कमाने का कार्य किया,जबकि यह अभी भी हवा में पैरवी करके सिर्फ और सिर्फ आपको बरगलाने का कार्य करें,आप को ऐसे लोगों से सावधान रहना होगा।

      *साथियों जब हाईकोर्ट सिंगल बेंच में अपने मुताबिक बेंच नही लगती तो सुप्रीम कोर्ट में ऐसा सोचा भी कैसे जा सकता है।जो भी व्यक्ति सर्वोच्च न्यायालय पे टिप्पणी कर रहा है,वह आप का कभी भी भला नही सोच सकता।

           *आप लोगों को यह भृमित किया जा रहा है,कि 20 मई 2020 को सुनवाई न करवाई जाए,तो इसका परिणाम आप यह भी जान लो फिर पता नही कब डेट लगे,शायद तब लगे जब सरकार भर्ती प्रक्रिया को पूर्ण कर ले,क्या यह चाहते है आप लोग।*

             साथियों ऐसी बहुत सी बातें हैं जो कि कहीं न कहीं अपने आप मे अहम है।

  *साथियों धैर्य रखें, अफवाहों का बाजार गर्म है, कोई अधिवक्ता पे प्रश्न चिन्ह लगा रहा है,तो कोई कुछ यह वही लोग है,जिनकी अभी तक हवा में पैरवी है,और वह आपको बरगलाने का कार्य कर रहें हैं।

        *सीतापुर टीम की तरफ से सर्विस मैटर के बेस्ट अधिवक्ता श्री सी ए सुंदरम जी तथा बहराइच टीम की तरफ से श्री मुकुल रोहतगी जी से 20 मई को अपना पक्ष रखेंगे।*

      जो प्रदेश में एक गलत ह्यूमर फैला रहे हैं,उनसे यही कहना है, कि अगर बहुत ही बड़े ज्ञाता हो तो तुम्हारे पास अभी भी तीन दिन है,मुझसे बड़े अधिवक्ता के साथ मैदान में आओ। बिना नाम की पोस्ट डालकर लोगों को  परेशान मत करो।

          *साथियों अगर ईश्वर है,तो न्याय अवश्य मिलेगा। और जरूर मिलेगा। तैयारी में मैं आप को बता देता हूँ,कि हर ऑर्डर की काट हमारे अधिवक्ता के पास है। फिर जो किस्मत में लिखा है,वही होगा।*

     साथियों इस समय तैयारी का समय है,विधवा विलाप का नही,वकीलों की फीस इकट्ठा करने का समय है,ताकि हम लोग मजबूती से अपना पक्ष रख सकें। इनको टांग खींचने दो। मजबूत होकर अपना पक्ष रखा जाये, हम लोगों को इन सब चीजों से कमजोर मत होने देना। यह बात ध्यान में रख लो ,आपकी ताकत को तोड़ने का कार्य किया जा रहा है। अपने आराध्य का ध्यान करो।

     *साथियों आप के पैरवीकार गुड्डू सिंह के जनरल में 83 नम्बर है, हम आपको भरोषा दिलाते है,अगर ईश्वर है,तो पहली ही डेट पे स्टे होगा।*

 कोर्ट सम्बन्धी कोई भी ऑर्डर की जानकारी हम शोसल मीडिया पे शेयर नही कर सकते है । बस हम लोगों को अपने अधिवक्ता पे भरोषा है।

*नोट* :- सीतापुर टीम तथा बहराइच टीम शुरू से ही एक ही साथ मिलकर चल रही हैं,और आगे भी चलेंगी।

                *🚩जय माँ पीताम्बरा🚩*

                     *🤝🏻सीतापुर टीम🤝🏻*

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇