15 July 2020

12460 शिक्षक भर्ती से सम्बंधित याचिका की सुप्रीम कोर्ट में 17 जुलाई को सुनवाई

#सुप्रीम_कोर्ट_अपडेट 💐💐💐💐💐💐💐

🔮 जैसे का आप सभी को अवगत होगा और हमारे टीम से आप सभी को चार दिन पहले से अवगत कराया जा चुका है कि  कि 12460 भर्ती से सम्बंधित सुप्रीम कोर्ट में 17 जुलाई को सुनवाई के लिए एक केश लगी हैं ।

🔮 हम जिला वरीयता नियम को चुनौती देने नहीं जा रहे है हम लोगो का सिर्फ एक ही मांग होंगी की हम शून्य जनपद वाले अभ्यर्थी कहा जाये जिसकी सुनवाई एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट की तीन सदस्यीय पीठ #17_जुलाई को सुनवाई करेगी।

🔮 केस वर्चुअल कोर्ट नम्बर 02 में 7 वें नंबर पर सुनवाई हेतु लिस्ट है।

🔮 तीन सदस्यीय बेंच में जस्टिस यू०यू० ललित, जस्टिस  एम०एम०शांतनगौदार तथा जस्टिस विनीत शरण जी रहेंगे।

🔮 याचिकाकर्ता मे  12460 भर्ती को  सुरक्षित करने की मांग की है।

🔮 सुप्रीम कोर्ट में एक अधिकार की मांग शुरू हो चुकी है क्योंकि शून्य जनपद कभी लम्बे समय से मानसिक सामाजिक रूप से परेशान हैं।और  यह पीड़ा जल्द ख़त्म होगा माननीय न्यायालय से हम लोग ऐसा उम्मीद करतें हैं ।

🔮 कुलदीप टीम से समझौता की बात सही हैं लेकिन उनका समझौता सीजे बेन्च लखनऊ के लिए था कि उनके वकील हम लोंगो की बात रखने का प्रयास करेंगे । और हम शून्य जनपद सुप्रीम कोर्ट नहीं जायेंगे और हम गये भी नहीं यदि अंकुर गर्ग गये हैं तो हम रोक भी नहीं सकते है क्योंकि हमने बहुत प्रयास किया कि अंकुर गर्ग केश नहीं हो लेकिन उन्होंने माना नहीं तो क्या इसमे शून्य जनपद वालो की गलती हैं ।

🔮 हम लोग केवल और केवल अपनी बात रखे जा रहे ही कि हम शून्य जनपद के अभ्यर्थियों का क्या होगा जिनके जनपद में सीट नहीं थी सब हमें इतना ही कहना है ।

🔮 कुलदीप कह रहे कि हम वकील नहीं लेकर जायेगे लेकिन सोचने वाली बात यह भी तो आप नहीं जा रहे हैं लेकिन 51 अचयनित और 15000,16448 के लोग तो आपही की बात कहने जा रहे हैं ! आप जाये या नहीं जाये आपकीं बात तो उस तरह से भी रखी जायेगी।

🔮 हम लोग किसी भी भर्ती को रद्द कराने नहीं जा रहे हैं और खुद ही सोचे आप लोग जो हम लोग इतने दिनों से इस भर्ती के लिए परेशान हो उस भर्ती को क्यों रद्द कराने की बात क्यों करेगा ।

🔮 नौकरीं का दर्द क्या होता हैं हम शून्य वालो से अधिक कोई नहीं जान सकता हैं ।

🔮 अब आगे आप लोग सोचे कि तीन जजों की बेंच में क्या एक जूनियर वकील रखना सही रहेगा क्योंकि हमारे विपक्ष के पास सीनियर वकील पहले से है इसलिए आप लोग अधिक से अधिक सहयोग करें । 

🔮 हम लोगों के पास मात्र एक दिन का समय और शेष हैं काम बहुत अधिक है इसलिए आप लोग जब इतनी बार सहयोग किये हैं तो मात्र एक बार और सहयोग करें जिससे हम सीनियर वकील कर सकें और अपनी बात को सुप्रीम कोर्ट में रख सकें क्यो यदि हम अपनी बातें रखने में असफल हो तो जो भी आदेश माननीय सुप्रीम कोर्ट से आयेगे उस आदेश को सीजे बेंच में विपक्ष सफ़ल हो जायेगा और उस आदेश को हम लोगों को भी मानने के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

🔮 एक बार आप सभी को हम अवगत कराना चाहते हैं कि हम सुप्रीम कोर्ट अपनी बात रखने जा रहे हैं कि हम 12460 शून्य जनपद चयनित अभ्यर्थि कहाँ जाये जो कि सरकार की सारी प्रक्रिया में रहें हैं और चयनित भी विद्यालय भी आवंटित हैं केवल औऱ केवल नियुक्ति पत्र पर रोक थी अब हम कहाँ जाये । हम भर्ती कभी भी रद्द कराने की बात नहीं सोचे और नहीं सोचते हैं। केवल और केवल हमें अपना अधिकार चाहिए ।

 💐💐💐 मनुष्य अपने गुणों से आगे बढता है न कि दूसरों कि कृपा से। 💐💐💐💐

#हमारे_अधिवक्ता

⚛️ विभा मखीजा मैंम (सीनियर अधिवक्ता सुप्रीम कोर्ट)

⚛️ पारुल शुक्ला मैम D/O जस्टिस वी के शुक्ला सर RTD कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश लखनऊ कोर्ट (जूनियर अधिवक्ता) सुप्रीम कोर्ट AOR

#मोहित_एंड_टीम

#धन्यवाद💐💐💐💐💐💐

Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇