बारात रुकने के लिए परिषदीय विद्यालय भवन मांगने गये युवक के लिए शिक्षिका से अभद्रता करना भारी पड़ा, जानिए क्या है पूरा मामला


बारात रुकने के लिए विद्यालय भवन मांगने गये युवक के लिए शिक्षिका से अभद्रता करना भारी पड़ा।
दूल्हा सहित दो अराजक तत्व चढ़े पुलिस के हत्थे।
फिलहाल मुख्य आरोपी पुलिस हिरासत में और शेष आरोपी रंगरूटों की तलाश जारी...
#योगी_पुलिस के इस सिंघम एक्शन की शिक्षक समुदाय में विशेष चर्चा हो रही है।
बताते चलें कि प्राथमिक विद्यालय सोहरौना कुशीनगर जिला मुख्यालय से सटे स्थित है। यह विद्यालय अंग्रेजी माध्यम से संचालित है और इसमें सभी स्टाफ महिला हैं। विगत वर्ष मा0 कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस विद्यालय को गोद लिया था जिसके कारण बेहतर शैक्षणिक माहौल के लिए इस विद्यालय को अवस्थापन सुविधाओं से संतृप्त कर दिया गया था।
इस विद्यालय परिसर को अराजक तत्वों ने जुआ और शराब का अड्डा बना दिया था। विद्यालय समय में कार्यरत शिक्षिकाओं को अक्सर इनके बेशर्म व्यवहार से शर्मसार होना पड़ता था। गत दिनों विवाह कार्यक्रम के लिए विद्यालय भवन और मुख्य गेट की चाभी मांगने गये एक युवक ने प्रधानाध्यापिका से अपमानजनक व्यवहार किया था। प्रधानाध्यापिका ने विभाग को इसकी लिखित सूचना दी तो BSA कुशीनगर नें पुलिस अधीक्षक को यथोचित कार्यवाही करने के लिए पत्र लिख दिया। पुलिस कप्तान के निर्देश पर डाली गई दबिश में दो मुख्य आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है शेष की तलाश जारी है।
फिलहाल योगी पुलिस की त्वरित कार्यवाही के लिए उ0प्र0 प्राथमिक शिक्षक संघ (कुशीनगर) विशेष धन्यवाद और आभार ज्ञापित करता है।
✍️सुनील कुमार दूबे

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇