यूपी बोर्ड का मान बढ़ाने वाले छात्रों को नहीं ढूंढ पा रहा विभाग


गोरखपुर, यूपी बोर्ड से उत्तीर्ण देश-विदेश में प्रमुख पदों पर तैनात विद्यार्थियों को विभाग ढूढ़ने में नाकाम है। शताब्दी वर्ष समारोह के मद्देनजर बोर्ड ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न क्षेत्रों शिक्षा, चिकित्सा, न्यायिक, राजनीतिक, प्रशासनिक, सामाजिक, साहित्य, खेल व कला-संस्कृति के क्षेत्र में उच्च पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके या दे रहे पुरा छात्रों को गौरव पोर्टल से जोड़ने का निर्देश दिया था। लेकिन विभागीय उदासीनता के कारण जनपदों से पुरा विद्यार्थियों के पंजीकरण की स्थिति असंतोषजनक मिली है। जिस पर बोर्ड ने नाराजगी जताई है।

10 जनवरी तक पोर्टल पर होगा पंजीकरण

बोर्ड ने इसे गंभीरता से लेते हुए जिला विद्यालय निरीक्षकों को प्रधानाचार्यों के साथ बैठक कर व प्रचार-प्रसार कराकर अधिक से अधिक पुरा छात्रों का पंजीकरण मिशन पोर्टल पर कराने का को कहा है। बोर्ड ने इसके लिए एक बार फिर 10 जनवरी तक पोर्टल खोल दिया है, ताकि बोर्ड से उत्तीर्ण हुए अधिक से अधिक पुरा विद्यार्थी पंजीकरण करा सकें। हालांकि अभी तक हुए पंजीकरण की रफ्तार को देखते हुए यह कहा जा सकता है 10 जनवरी तक पुरा छात्रों की तलाश पूरी हो पाएगी।

जिले से पोर्टल पर सिर्फ 143 पंजीकरण

बोर्ड के निर्देश के बाद गौरव पोर्टल पर पंजीकरण को लेकर विभागीय उदासीनता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जिले शुक्रवार तक सिर्फ 143 पंजीकरण ही हुए थे। बोर्ड की सख्ती के बाद एक फिर विभागीय अधिकारियों ने जिले के सभी प्रधानाचार्यों को पत्र भेजकर निर्धारित तिथि तक बोर्ड से हाईस्कूल व इंटरमीडिएट उत्तीर्ण अधिक से अधिक पुरा विद्यार्थियों का पंजीकरण कराने का निर्देश दिया है।

प्रधानाचार्यों को दिया गया निर्देश, क्षम्‍य नहीं होगी शिथिलता

जिला विद्यालय निरीक्षक ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया ने बताया कि जिले के सभी राजकीय, अशासकीय सहायता प्राप्त व स्ववित्तपोषित हाईस्कूल व इंटर कालेज के प्रधानाचार्यों को बोर्ड से उत्तीर्ण अधिक से अधिक छात्रों के पंजीकरण के निर्देश दिए गए हैं। इसमें किसी भी प्रकार शिथिलता क्षम्य नहीं होगी।

.

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇