भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार अब, ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने से पहले ही उस व्यक्ति का नाम देखा जा सकेगा


नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ऐसी नई व्यवस्था लाने की तैयारी में है, जिससे ग्राहकों को मुश्किलों से राहत मिल जाएगी। साथ ही बढ़ते डिजिटल फ्रॉड पर भी लगाम लगाई जा सकेगी। आरबीआई के मुताबिक, ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने से पहले ही उस व्यक्ति का नाम देखा जा सकेगा, जिसे भेजना होगा।



रिजर्व बैंक ने पेमेंट विजन- 2025 दस्तावेज जारी कर ऐसी तमाम सहूलियतों के बारे में रास्ते तलाश जाने के संकेत दिए हैं। चेक पेमेंट के बजाय डिजिटल पेमेंट को भी बढ़ाकर तीन गुना कर दिया जाएगा। चेक पेमेंट के जरिये लेन-देन को अगले 3-4 साल में 0.25 फीसदी तक सीमित कर दिया जाएगा। रिजर्व बैंक सभी लोगों के लिए तेज ई-भुगतान व्यवस्था पर काम कर रहा है। उसके मुताबिक इसका समग्र उद्देश्य हर उपयोगकर्ता को सुरक्षित, तेज, सुविधाजनक, सुलभ और किफायती ई-भुगतान विकल्प देना है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇