एक दफ्तर में पांच वर्ष बिता चुके बेसिक, माध्यमिक के बाबू हटेंगे, जिले में ही दूसरे कार्यालय में किया जाएगा तबादला

प्रदेश में माध्यमिक व बेसिक शिक्षा विभाग के अंतर्गत विभिन्न कार्यालयों में अपने संपूर्ण सेवाकाल में पांच वर्ष की सेवाएं पूरी कर चुके समूह-‘ग’ के कर्मचारियों का तबादला किया जाएगा। ऐसे कर्मचारियों का तबादला उसी जिले के किसी दूसरे कार्यालय में किया जाएगा। अपरिहार्य परिस्थिति में जिले या मंडल के बाहर भी भेजे जा सकते हैं। 




 इस संबंध में दोनों विभाग के मंत्रियों के बीच हुई बैठक में तय किया गया है कि लिपिकों के लिए मुख्यमंत्री द्वारा अनुमोदित स्थानांतरण नीति के अनुसार कार्रवाई की जाए। इसी क्रम में तय हुआ है कि प्रदेश के विभिन्न राजकीय कार्यालयों, जैसे- मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक, मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक), मंडलीय उप शिक्षा निदेशक (माध्यमिक), डीआईओएसव बीएसए कार्यालयों में कार्यरत समूह ‘ग’ के कर्मियों का पांच वर्ष को आधार बनाते हुए तबादला किया जाए। इसी कड़ी में तय हुआ है कि लिपिक जिनका संयुक्त स्थानांतरण अपर शिक्षा निदेशक, बेसिक उप्र. प्रयागराज द्वारा किया जाना है उनके संबंध में जल्द कार्यवाही पूरी की जाए ताकि उसके बाद मंडल स्तर के स्थानांतरण संयुक्त शिक्षा निदेशक, माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा किया जाए।


अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने अपर शिक्षा निदेशक बेसिक से संयुक्त स्थानांतरण के संबंध में कार्यवाही 22 जून तक कराने के लिए कहा है। उन्होंने माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधीनस्थ कार्यालयों में कार्यरत समूह-‘ग’ के तीन वर्ष से एक पटल पर कार्यरत कर्मियों का पटल परिवर्तन भी समय से करने को कहा है। 

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇