अलर्ट 📛 पेटीएम ग्राहकों को लेना होगा नया फास्टैग, कल के बाद रिचार्ज, टॉपअप नहीं किया जा सकेगा


राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने बुधवार को पेटीएम फास्टैग उपयोगकर्ताओं के लिए सलाह जारी की। ग्राहकों को 15 मार्च से पहले किसी अन्य बैंक या संस्थान से फास्टैग खरीदने को कहा है। फास्टैग जारी करने वाले बैंकों की सूची भी जारी की है। इसमें से पेटीएम पेमेंट्स बैंक को अब हटा दिया गया है।


केवाईसी कैसे जांचें

● फास्टैग की स्थिति जांचने को fastag.ihmcl.com वेबसाइट पर जाएं।

● होमपेज पर लॉगिन बटन मिलेगा। इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा।

● ओटीपी दर्ज कर माई प्रोफाइल सेक्शन पर क्लिक करें।

● यहां केवाईसी स्टेटस के विकल्प पर क्लिक करें।

● इससे केवाईसी की स्थिति दिखने लगेगी। यहां अपडेट कर सकते हैं।

● इसके अलावा फास्टैग जारी करने वाले बैंक के माध्यम से भी अपडेट कर सकते हैं।

कल के बाद रिचार्ज, टॉपअप नहीं किया जा सकेगा

एनएचएआई की टोल संग्रहण इकाई भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड (आईएचएमसीएल) ने 19 जनवरी 2024 को पेटीएम पेमेंट्स बैंक को नए फास्टैग जारी करने से रोक दिया था। 15 मार्च के बाद इसे रिचार्ज या टॉप-अप भी नहीं किया जा सकेगा। हालांकि, इसके ग्राहक 15 मार्च के बाद जब तक फास्टैग में शेष राशि उपलब्ध रहेगी, तब तक इसका इस्तेमाल कर पाएंगे।

दोगुना टोल देना होगा

प्राधिकरण के अनुसार, पेटीएम फास्टैग धारकों को 15 मार्च तक शेष राशि खत्म हो जाने के बाद नया फास्टैग लेना होगा। नियमों के अनुसार फास्टैग से भुगतान न होने पर दोगुना टोल देना होता है। नया फास्टैग जारी करवाने से यात्री इससे बच सकते हैं। एनएचएआई के अनुसार, देश में आठ करोड़ से अधिक फास्टैग उपयोगकर्ता हैं और पेटीएम पेमेंट्स बैंक (पीपीबीएल) की बाजार हिस्सेदारी करीब 30 प्रतिशत है।

नई सूची में 39 बैंक शामिल

प्राधिकरण की संशोधित सूची में 39 बैंकों के नाम शामिल किए गए हैं, जिनसे फास्टैग लिया जा सकता है। इस सूची में अधिकृत बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के नाम हैं।