02 May 2020

फर्जी शिक्षक प्रकरण पर आया हाईकोर्ट का आर्डर, शिक्षकों की बर्खास्तगी के लिए कार्रवाई फिर शुरू


फर्जी शिक्षक प्रकरण पर आया हाईकोर्ट का आर्डर, शिक्षकों की बर्खास्तगी के लिए कार्रवाई फिर शुरू

इलाहाबाद हाई कोर्ट के ऑर्डर के बाद शिक्षकों की फर्जी डिग्री मामले में शिक्षक शिक्षिकाओं पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है। यह शिक्षक पूर्व में बर्खास्त किए जा चुके हैं, लेकिन स्टे के कारण पुनः विद्यालयों में ज्वाइन भी कर लिया है, लेकिन वेतन नहीं जारी हो सका।

आगरा B.Ed 2005 फर्जी शिक्षक मामले का जिन्न एक बार फिर जिन बोतल से बाहर आ चुका है, हाईकोर्ट ने एसआईटी जांच रिपोर्ट एवं आगरा विश्वविद्यालय की रिपोर्ट पर फर्जी डिग्री के माध्यम से बेसिक स्कूलों में नियुक्त शिक्षकों को अवैध घोषित कर दिया है। इस पर हाईकोर्ट ने सख्त टिप्पणी भी की है हाईकोर्ट ने कहा कि फ्राड एवं न्याय एक साथ नहीं चल सकते।

हाई कोर्ट के निर्णय का बीएसए और उनकी टीम अध्ययन कर रहे हैं कोर्ट ने टेम्पर्ड और फेंक डिग्रीधारकों को किसी प्रकार की राहत नहीं दी है। आगरा विवि से सभी फर्जी डिग्रीधारी शिक्षकों को बर्खास्त करने के निर्देश दिए हैं। अब इन शिक्षकों की बर्खास्तगी तय मानी जा रही है।
इससे इस मामले पर कार्रवाई करने को शिक्षा निदेशक (बेसिक) ने उत्तर प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी कर दिया है।
देखें आर्डर कॉपी




Guruji Portal: 👇प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु नोट्स👇