अब प्रदेश के हर जिले में रात दस से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू

लखनऊ: कोरोना संक्रमण की तेज रफ्तार के साथ ही सरकार सख्ती बढ़ाती जा रही है। अब प्रदेश के हर जिले में रात दस से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। पहले यह व्यवस्था सिर्फ एक हजार से अधिक सक्रिय केस वाले जिलों के लिए ही थी, जबकि बाकी जिलों के लिए पाबंदी रात 11 से सुबह पांच बजे तक थी। इस संबंध में मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने रविवार को शासनादेश जारी कर दिया।


कोरोना संक्रमण के संबंध में प्रदेश के हालात की समीक्षा टीम-9 के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की। उन्होंने सतत निगरानी करते हुए संक्रमण रोकने के सभी जरूरी उपाय करने के निर्देश दिए। इसके बाद मुख्य सचिव ने नाइट कफ्यरू बढ़ाने संबंधी आदेश जारी कर दिए। शासनादेश में स्पष्ट किया गया है कि सभी शैक्षणिक संस्थान 16 जनवरी, 2022 तक बंद रहेंगे, लेकिन आनलाइन कक्षाएं चलती रहेंगी। वहीं, 15 से 18 वर्ष आयु के बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण 15 जनवरी तक कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इंटीग्रेटेड कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर में सभी संबंधित विभागों के अधिकारी प्रतिदिन उपस्थित रहेंगे। मुख्य सचिव ने कहा है कि जिला स्तर पर जिलाधिकारी, पुलिस आयुक्त, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक हर दिन कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर पहुंचकर चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे, ताकि कोरोना महामारी को न्यूनतम स्तर पर लाया जा सके।

’>>पहले एक हजार से अधिक केस वाले जिलों में ही बढ़ाया गया था दो घंटे समय

’>>15 से 18 वर्ष तक के बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण 15 तक करने का लक्ष्य

शुरू की जाएं सामुदायिक रसोई: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा 15 करोड़ लोगों को निश्शुल्क राशन दिया जा रहा है, लेकिन यदि किसी के पास राशन कार्ड भी नहीं है तो उन्हें दोनों समय खाने के पैकेट उपलब्ध कराए जाएं। निर्देश दिया कि कोरोना काल के पिछले अनुभवों के आधार पर सामुदायिक भोजनालयों का संचालन शुरू कराया जाए। निराश्रित लोगों, अकेले रह रहे बुजुर्गों, दिव्यांगजन पर विशेष ध्यान दिया जाए। ऐसे व्यक्ति यदि संक्रमित होते हैं तो उनके साथ अतिरिक्त संवेदनशीलता का भाव रखा जाए। इनके इलाज, भोजन की व्यवस्था की जाए।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇