बीएसए ने वेतन सहित पेंशन रोकते हुए मांगी जांच रिपोर्ट, जाने पूरा मामला


गाजीपुर, बीएसए हेमंत राव ने करंडा ब्लाक के कंपोजिट विद्यालय सोकनी की प्रधानाध्यापिका ललिता देवी के धन निकासी प्रकरण की जांच कर एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी है। रिपोर्ट मिलने के बाद विभाग अग्रिम कार्रवाई की तैयारी में है। बीएसए ने शिक्षिका के मार्च का वेतन सहित पेंशन भी अग्रिम आदेश तक रोक दिया है।


कंपोजिट विद्यालय सोकनी की प्रभारी प्रधानाध्यापिका ललिता देवी सेवानिवृत्त हो गयी है। इन पर आरोप है कि विद्यालय के खाते से स्वयं व बेटा के नाम पर धन निकासी की गयी है। इस प्रकरण के जांच अधिकारी बीईओ सुनिल कुमार सिंह ने एक सप्ताह में स्पष्टीकरण मांगी थी, जिसका जवाब नहीं दिया गया है। अब बीईओ के रिपोर्ट पर बीएसए ने वेतन सहित पेंशन अग्रिम आदेश तक रोक लगा दी है। वहीं इस पूरे प्रकरण की जांच कर एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी है। बीईओ के रिपोर्ट पर विभाग की ओर से अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। शिक्षिका ललिता देवी के रिटायरमेंट से पहले इसी मामले के सामने आने के बाद तत्कालिन बीईओ रमेश चंद्र श्रीवास्तव ने पत्रावली पर रोक लगा दी थी। जिसके बाद शिक्षिका ने पत्रावली आगे बढ़ाने को लेकर 50 हजार रूपया मांगने का अरोप लगाया था। जिसपर बीएसए की रिपोर्ट पर अपर निदेशक (बेसिक शिक्षा) ने बीईओ को निलंबित कर दिया था। वहीं बीएसए ने शिक्षिका धन आहरण प्रकरण की जांच कर रिपोर्ट मांगी है। बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने बताया कि बीईओ सुनिल कुमार सिंह ने एक सप्ताह के भीतर जांच कर रिपोर्ट देने के लिए निर्देश जारी किया गया है। रिपोर्ट मिलने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

.

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇