झटका: सौ दिन की कार्ययोजना में शिक्षक भर्ती शामिल नहीं, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने बनाया कार्यक्रम,एडेड कॉलेजों में इतने पद हैं खाली


● माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने बनाया कार्यक्रम

● प्रधानाचार्यों की पुरानी भर्तियां पूरी करना प्राथमिकता

● शिक्षकों-प्रधानाचार्यों के 7268 रिक्त पद मिले हैं

एडेड कॉलेजों में कितने पद खाली

● 4500 प्रशिक्षित स्नातक (टीजीटी) या सहायक अध्यापक

● 850 प्रवक्ता (पीजीटी)

● 465 प्रधानाचार्य

● 1453 प्रधानाचार्य (2019 में प्राप्त)

● 7268 योग


प्रयागराज। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की 100 दिन की कार्ययोजना में अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के लिए नई शिक्षक भर्ती का विज्ञापन जारी करना शामिल नहीं है। चयन बोर्ड की ओर से शासन को भेजे गए प्रस्ताव में प्रधानाचार्यों की पुरानी भर्ती पूरी करने और पूर्व में चयनित अभ्यर्थियों की समस्याओं के समाधान करना है।

प्रधानाचार्य भर्ती 2013 के 632 पदों और प्रधानाचार्य भर्ती 2011 के कानपुर मंडल का चयन परिणाम घोषित होने से एडेड कॉलेजों में लंबे समय से रिक्त पदों पर नियमित प्रधानाचार्य मिल सकेंगे। इसके अलावा प्रशिक्षित स्नातक (टीजीटी) और प्रवक्ता (पीजीटी) 2016 व 2021 में चयनित लेकिन किन्हीं कारणों से कार्यभार ग्रहण नहीं कर पाने वाले चयनित अभ्यर्थियों का समायोजन किया जाएगा। तीन से 20 दिसंबर 2021 तक प्राप्त ऑनलाइन अधियाचन का सत्यापन अगले 100 दिन में कराया जाएगा ताकि चयन के बाद कार्यभार ग्रहण कराने में समस्या न हो। चयन बोर्ड को शिक्षकों व प्रधानाचार्यों के 7268 पदों का अधियाचन मिला है।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇