छठी क्लास के बच्चे ने हेडमास्टर की गाड़ी साफ करने से किया मना, टीचर ने पेन से गोदा और छात्र का सिर्फ स्कूल की ड्रेस्क पर दे मारा

बागपत के बड़का गांव स्थित एक पूर्व माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को गाड़ी साफ करने से मना करने पर प्रधानाध्यापक ने कक्षा-6 के छात्र से बुरी तरह मारपीट की। आरोप है कि छात्र को पेन से जगह-जगह गोदने के अलावा छात्र का सिर स्कूल की एक डेस्क में दे मारा और अपशब्द कहते हुए मारपीट की। पीड़ित छात्र को लेकर परिजनों व हिन्दू जागरण मंच के पदाधिकारियों ने कोतवाली पहुंचकर हंगामा किया।




पुलिस ने छात्र को सीएचसी पर स्वास्थ्य जांच के लिए भेज दिया है। शाम को बीएसए ने आरोपी को निलंबित कर दिया। दरअसल, यह मामला बड़ौत कोतवाली क्षेत्र के बड़का गांव का है। यहां स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में कक्षा-6 में गांव का ही वंश पुत्र राकेश पढ़ता है। आरोप है कि स्कूल के प्रधानाध्यापक ने स्कूल में छात्र वंश से अपनी गाड़ी साफ करने के लिए कहा। कुछ समय गाड़ी साफ करने के बाद वंश ने गाड़ी को और साफ करने से इनकार कर दिया, जिस पर प्रधानाध्यापक भड़क गया।





परिजनों का आरोप है कि प्रध्यानाध्यापक ने पेन से छात्र के सिर, हाथ व माथे पर गोदना शुरू कर दिया और सिर डेस्क पर भी दे मारा। किसी तरह छात्र वंश स्कूल से घर भाग आया। इसके बाद परिजन छात्र को लेकर कोतवाली पहुंचे। यहां पर हिंदू जागरण मंच व एबीवीपी पदाधिकारियों के साथ कोतवाली में हंगामा प्रदर्शन भी किया। कोतवाली प्रभारी मगनवीर सिंह ने बताया कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।



पूर्व माध्यमिक विद्यालय बड़का के प्रधानाध्यापकवंश हारुन अली मुनव्वर ने कहा, ‘कक्षा छह का छात्र है। वह स्कूल में दंगा करता है। उसने मना किया तो वह अपने परिजनों के साथ स्कूल आया और उनके साथ मारपीट की। इस मामले में उन्होंने कोतवाली में तहरीर दी। उन पर लगाए सभी आरोप निराधार हैं।’

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇