12460 सहायक अध्यापक भर्ती:- शिक्षक बनने का जश्न तो कहीं अंतहीन इंतजार

 परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 12460 सहायक अध्यापक भर्ती किसी के लिए जश्न तो किसी के लिए अंतहीन इंतजार का सबब बनी हुई है। इस भर्ती में चयनित शिक्षकों ने नियुक्ति के चार साल पूरे होने पर शनिवार को शिक्षा निदेशालय में सुंदरकांड का पाठ किया। वहीं शून्य जनपद के विवाद के कारण लगभग छह हजार बेरोजगार पिछले चार साल से हाईकोर्ट का चक्कर काट रहे हैं। 15 दिसंबर 2016 को जारी 12460 शिक्षक भर्ती के विज्ञापन में 24 जिलों में एक भी रिक्त पद नहीं थे। इन जिलों के अभ्यर्थियों को किसी भी अन्य जनपद में आवेदन की छूट थी। 16 मार्च 2017 को पहली काउंसिलिंग हुई। फिर समीक्षा के नाम पर सरकार ने भर्ती पर रोक लगा दी। 16 अप्रैल 2018 को सीएम ने भर्ती शुरू की अनुमति दी थी। 5948 चयनितों का नियुक्ति पत्र फंसा हुआ है।



हर साल सुंदरकांड की मानी थी मन्नत

एक मई 2018 को नियुक्ति का आदेश होने पर चयनित अभ्यर्थियों ने हर साल सुंदरकांड का पाठ करने की मन्नत मानी थी। हर साल जून के दूसरे शनिवार को ये शिक्षक शिक्षा निदेशालय में सुंदरकांड का पाठ करने के लिए जुटते हैं।

भर्तियों के निस्तारण की कामना की गई

शिक्षकों ने रामचरितमानस सुंदरकांड के संगीतमय पाठ का आयोजन किया। आरती के बाद प्रसाद का वितरण हुआ। आयोजकों ने सभी भर्तियों के निस्तारण व शिक्षकों के कल्याण की कामना की। पाठ करने वालों में तरुण अग्रवाल, रवि प्रसाद तिवारी, लीगल टीम से अतुल द्विवेदी, दीपक सिंह ध्येय आदि शामिल रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇