MDM: मध्याहन भोजन योजना का होगा सोशल ऑडिट


MDM:  मध्याहन भोजन योजना का होगा सोशल ऑडिट
वाराणसी। सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों में कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को बंटने वाले मिड- डे मील की सोशल ऑडिट होगी। मिड-डे मील प्राधिकरण ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। गर्मी की छुट्टी के बाद स्कूल खुलते ही व्यवस्था शुरू की जाएगी। मिड-डे मील की गुणवत्ता और बेहतर करने के मकसद से सोशल ऑडिट की शुरुआत 5 जिलों में फरवरी 2020 में हुई थी। हालांकि कोरोना के कारण लॉकडाउन में यह कार्य प्रभावित हो गया। अब प्रदेश केविभिन्‍न जिलों में इसे दोबारा शुरू किया जाएगा। ऑडिट के दौरान ब्लॉक समन्वयक एमडीएम की गुणवत्ता तो परखेंगे ही खामियों को भी उजागर करेंगे।

 


 परिषदीय विद्यालयों में आमतौर पर एमडीएम में खामियां सामने आती रहती हैं। मौसमी फल व दूध देने के नाम पर अनियमितता भी कई बार देखने को मिलता है। सोशल ऑडिट के तहत सत्यापन अधिकारी को प्रश्नों की एक सूची दी जाएगी। जिस पर अभिभावक अपनी रिपोर्ट देंगे। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह ने बताया कि मध्याहन भोजन को बेहतर बनाने के लिए इस सत्र में सोशल ऑडिट कराया जाना है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇