परिषदीय स्कूलों में नहीं हुईं तिमाही परीक्षाएं

 मऊ जिले के परिषदीय विद्यालयों में नई योजना के तहत तिमाही पैटर्न पर जुलाई के अंत में गणित और हिंदी विषय की परीक्षा ओएमआर शीट पर होनी थी। अगस्त का दूसरा सप्ताह बीतने को है, लेकिन परीक्षाएं नहीं हो सकी।






जिले में 1208 परिषदीय विद्यालय, 94 सहायता प्राप्त 56 समाज कल्याण से संबद्ध विद्यालयों में 1.80 लाख बच्चे अध्ययनरत हैं। शासन की तरफ से सरकारी विद्यालयों में तिमाही पैटर्न पर हिंदी व गणित की परीक्षा एक सत्र में चार बार परीक्षा ओएमआर आंसर शीट होनी है। परीक्षा होने से छात्रों के अंदर प्रतिस्पर्धाों की भावना पैदा बार-बार मूल्यांकन होने से छात्रों की पढ़ाई की क्षमता का भी आकलन होता रहेगा। नई योजना के तहत पहली परीक्षा जुलाई के अंत में दूसरी परीक्षा अक्तूबर, तीसरी परीक्षा जनवरी में तथा चौथी परीक्षा अंत में अर्थात वार्षिक परीक्षा की समावेश करते हुए मार्च माह में होनी है। अगस्त माह में 13 दिन बीत गया, अभी तक शासन के फरमान की क्रियान्वित नहीं किया जा सका है। परीक्षा कब तक होगी आला अधिकारी साफ बताने की तैयार नहीं हैं। एक शिक्षक ने नाम न  छापने की शर्त पर बताया कि अभी तक विद्यालयों में पुस्तकों का वितरण नहीं हुआ है। परीक्षा होगी तो बच्चे कैसे परीक्षा दे पाएंगे। बीएसए डॉ. संतोष कुमार सिंह ने बताया कि परीक्षा कराने के संबंध में सूचना आई थी।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇