शिक्षकों का तबादला व निलंबन बहाली में गड़बड़ी, बलरामपुर के पूर्व बीएसए पाए गए दोषी

बेसिक शिक्षा अधिकारी बलरामपुर के पद से हटाए गए रामचंद्र परिषदीय शिक्षकों का अंतर जिला तबादला करने, निलंबन और बहाली करने में जमकर अनियमितता करने के दोषी पाए गए हैं। महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने उनके विरुद्ध कठोर अनुशासनिक कार्रवाई करने की संस्तुति की है। इस प्रकरण की जांच मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक अयोध्या को सौंप दी गई है।


इलाहाबाद हाई कोर्ट के आदेश पर आठ से 13 जुलाई तक शिक्षकों का अंतर जिला तबादला किया गया। सूबे के बलरामपुर जिले में तबादलों में जमकर गड़बड़ियां की गईं। शासन को जानकारी होने पर महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने 25 जुलाई को पिछले दो वर्षों में निलंबित शिक्षकों की बहाली, तैनाती, विद्यालय परिवर्तन व स्कूल निरीक्षण की त्रिस्तरीय जांच कराई।


जांच में सामने आया कि तबादला, निलंबन में अनियमितता करने के साथ ही जांच के समय अभिलेख तक उपलब्ध नहीं कराए गए। इसमें दोषी मिलने पर महानिदेशक ने कठोर अनुशासनिक कार्रवाई की संस्तुति की है। बेसिक शिक्षा विभाग बलरामपुर बीएसए रामचंद्र को पद से हटा चुका है। बेसिक शिक्षा के विशेष सचिव आरवी सिंह की ओर से जारी आदेश में प्रकरण की अनुशासनिक जांच मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक अयोध्या को सौंपी गई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇