सराहनीय पहल: 69000 नवनियुक्त शिक्षकों ने 100 ड्रॉप आउट बच्चों को लिया गोद

बलिया। 69000 शिक्षक भर्ती में चयनित नवनियुक्त शिक्षकों ने अपनी सेवा की प्रथम वर्षगांठ अकीलुर्रहमान खां के नेतृत्व में गड़वार रोड स्थित मैरेज हाल के सभागार में मनाई। आउट ऑफ स्कूल एवं ड्रॉप आउट बच्चों को शिक्षा के मुख्यधारा से जोड़ने के लिए शैक्षिक उन्नयन संगोष्ठी का आयोजन किया।शुरुआत प्रियंका सिंह ने सरस्वती पूजा एवं मेराज अली ने सरस्वती वंदना से किया।


नवनियुक्त शिक्षकों ने अपने प्रथम वर्षगांठ पर केक काटकर ख़ुशी का इजहार किया। संघर्ष के पलों को याद करते हुए 69000 शिक्षक भर्ती के संघर्षों में साथ देने के लिए पत्रकार बंधुओं को सम्मानित किया। बताया कि नवचयनित अध्यापकों ने इसके लिए एक बड़ी लड़ाई लड़ी है। लीगल टीम बलिया के संरक्षक अकीलुर्रहमान खां ने बताया कि प्रथम वर्षगांठ पर जनपद के 100 ऐसे बच्चों को गोद लेने का फैसला किया गया है जो शिक्षा की मुख्यधारा से किन्हीं कारणों से अभी तक जुड़ ही नहीं पाएं हैं। ऐसे बच्चों को चिन्हांकित करके उनके लिए स्कूल बैग, किताब, कॉपी और ड्रेस वितरित किया गया है। भविष्य में जब तक इनकी बेसिक शिक्षा पूर्ण नहीं हो जाती तब तक हम नवचयनित शिक्षक इन बच्चों को शिक्षा से संबंधित सभी समस्याओं को पूर्ण कर इन्हें विद्यालयी शिक्षा के मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य करेंगे। एआरपी अल्ताफ अहमद ने बताया कि जबसे नए शिक्षकों का आगमन बेसिक शिक्षा विभाग में हुआ है, निश्चित तौर पर बेसिक शिक्षा विभाग में एक नई क्रांति आई है। शिक्षा स्तर में लगातार सुधार हो रहा है। एआरपी शाहिद परवेज, पारुल सोनकर, प्रियंका सिंह, रेशमी, गीतांजलि राय, पूजा यादव, मीनू यादव, पुष्पा यादव, ज्योति, उत्कर्ष सिंह, रोहित सिंह, विजेंद्र पाण्डेय, मृदुल पाण्डेय, प्रवीण राय, अखिलेश ठाकुर, अजीत वर्मा, संतोष यादव, रतन वर्मा, अभिमन्यु कुमार, श्वेतांश, रजनीश चौबे, सुभाष यादव, शुभम सिंह मौजूद रहे।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇