क्या यूपी बोर्ड के छात्र इस बार भी बिना परीक्षा दिए हों जाएंगे पास? जानें- लेटेस्ट अपडेट्स


 यूपी बोर्ड के छात्र इस बार भी बिना परीक्षा दिए हों जाएंगे पास? जानें- लेटेस्ट अपडेट्स 
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते एक बार फिर बोर्ड परीक्षाओं पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. ऐसे में यूपी में प्री-बोर्ड और बोर्ड एग्जाम कराने को लेकर असमंजसता की स्थिति बनी हुई है.बताया जा रहा है कि राज्य में फरवरी में प्री बोर्ड एग्जाम आयोजित कराए जा सकते हैं. वहीं विधानसभा चुनाव के बाद बोर्ड एग्जाम की तारीखों का ऐलान होगा, लेकिन कोरोना की तीसरी लहर के खतरे के बीच एग्जाम डेट को लेकर अभी कोई ऑफिशियल बयान जारी नहीं किया गया है।



सूत्रों के मुताबिक अगर कोरोना के चलते एग्जाम टले तो 12वीं के छात्रों का रिजल्ट 50 फीसदी कक्षा 10वीं के आधार पर, 10 फीसदी प्री-बोर्ड, अर्द्धवार्षिक, तिमाही परीक्षा और 40 फीसदी कक्षा 11 के रिजल्ट के आधार पर तय किया जाएगा, जबकि 10वीं का रिजल्ट 50 फीसदी प्री बोर्ड और 50 फीसदी कक्षा 9वीं के अंकों पर आधार पर तय होगा.


हालांकि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परीषद की ओर से ऐसा कोई अपडेट जारी नहीं किया है, ये खबर सिर्फ सूत्रों के हवाले से लिखी गई है. यूपी बोर्ड परीक्षा से जुड़ी आधिकारिक जानकारी के लिए शिक्षा विभाग की वेबसाइटें समय-समय पर चेक करते रहें.


दरअसल, इस बार यूपी बोर्ड की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए 51 लाख से अधिक छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. बोर्ड के अनुसार, कुल 51, 74,583 छात्रों ने कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षा के लिए पंजीकरण किया है, जिसमें कक्षा 10 के लिए 27,83,742 और कक्षा 12 के लिए 23,91,841 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन किया है.

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇