प्रेस विज्ञप्ति : 27 हजार टीजीटी/ पीजीटी विज्ञापन जारी कराने को आन्दोलन का किया आगाज -अनिल सिंह


20 जून को राजधानी के  ईको गार्डेन में  उतरेगा जनसैलाब ।

चिलचिलाती धूप में छात्रों ने चयन बोर्ड पर किया प्रदर्शन ।

प्रयागराज, 14/6/2022।

          27 हजार टीजीटी पीजीटी पदों पर विज्ञापन के मुद्दे पर निर्णय शासन स्तर पर ही संभव है, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड इस मुद्दे पर निर्णय नहीं ले सकता है उक्त बातें चिलचिलाती धूप में प्रदर्शन में जुटे छात्रों के प्रतिनिधि मंडल से वार्ता के दौरान उपसचिव श्री नवल किशोर ने कहीं। जब उनके समक्ष 2 जुलाई 2021 को चयन संस्थाओं की मीटिंग में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा चयन बोर्ड में 27 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के आदेश की खबर को दिखाया गया तो इस संबंध में उन्होंने अनभिज्ञता जताते हुए कहा कि फिलहाल चयन बोर्ड के पास 27 हजार पदों को विज्ञापित करने संबंधी शासन स्तर से आदेश प्राप्त नहीं है। चयन संस्था को जो अधियाचन प्राप्त हुआ, उन पदों पर विज्ञापन जारी किया गया है। तदर्थ शिक्षकों के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना कर प्रबंधकों द्वारा अधियाचन न भेजने और उनके वेतन निर्गत करने पर लगाई गई रोक पर उन्होंने बताया कि इस मामले में शासन स्तर पर विचार कर गठित कमेटी ने बेमन न देने का निर्णय  लिया है और सुप्रीम कोर्ट के पारित आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने का दायित्व सभी संस्थानों को है। इसके लिए चयन बोर्ड भी उचित कदम उठा रहा है। कंप्यूटर विषय को लेकर विज्ञापन में शामिल करने के मुद्दे पर बताया कि अगर अधियाचन प्राप्त होता है तो जून के अंत पोर्टल खोला जाएगा और प्राप्त अधियाचन के तहत विज्ञापन संशोधित होगा।           27 हजार टीजीटी पीजीटी विज्ञापन के सवाल पर चयन बोर्ड द्वारा मुख्यमंत्री द्वारा 2 जुलाई 2021 को की गई घोषणा से पल्ला झाड़ लेने पर चिलचिलाती धूप में प्रदर्शन में जुटे छात्रों ने कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए 20 जून को ईको गार्डन लखनऊ में प्रदर्शन का ऐलान किया है। कहा कि प्रदर्शन में प्रदेश भर के प्रतियोगी जुटेंगें। युवाओं ने कहा कि अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से उनके खुद के द्वारा पूर्व में की घोषणा को लेकर वार्ता कर उनका पक्ष युवा जानेंगे। युवाओं को फिलहाल उम्मीद है कि प्रदेश भर के युवाओं के रोष के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तदर्थ शिक्षकों समेत टीजीटी पीजीटी के सभी रिक्त पदों को भरने के लिए पूर्व में की गई घोषणा के अनुरूप विज्ञापन को संशोधित कर न्यूनतम 27 हजार पद करने के लिए निर्णय लेंगे।

         आंदोलन की अगुवाई कर रहे युवा मंच अध्यक्ष अनिल सिंह ने चयन बोर्ड उपसचिव के स्पष्टीकरण पर कहा कि चयन बोर्ड अपने दायित्वों का निर्वहन करने में विफल रही है। दरअसल इसके पीछे वजह प्रबंधकों की शासन में पैठ है जोकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवमानना की प्रमुख वजह है। कहा कि तदर्थ शिक्षकों के रिक्त पदों के स्थान पर विज्ञापन हेतु सुप्रीम कोर्ट के आदेश के क्रियान्वयन के लिए सड़क से लेकर न्यायालय तक संघर्ष होगा। 20 जून को लखनऊ में प्रदर्शन के बाद सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका दायर करने की तैयारी की जायेगी। उन्होंने प्रदेश भर के प्रतियोगियों से 20 जून को लखनऊ पहुंचने की अपील की।


       वार्ता और प्रदर्शन के दौरान युवा मंच के अध्यक्ष अनिल सिंह, उपाध्यक्ष अंबरीष चतुर्वेदी, अरविंद मिश्रा, करन सिंह परिहार , आशीष पटेल, ज्ञान प्रकाश सिंह, अशोक महादेव, श्री गोपाल सिंह , शीतला प्रसाद ओझा, पुष्पा सिंह, सीमा सिंह, कल्पना तिवारी,  राजेश पाण्डेय,  ज्ञानेंद्र सिंह, अमित सिंह, अनिल कुमार सिंहसमेत सैकड़ों छात्रों की मौजूदगी रही।

भवदीयअनिल सिंह, अध्यक्ष युवा मंच     9451505685


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇