मदरसा शिक्षिकाओं को भी मिल सकेगा मातृत्व अवकाश, मदरसा बोर्ड ने बैठक में लिया फैसला

प्रदेश में मदरसा शिक्षिकाओं को भी अब मातृत्व अवकाश मिल सकेगा। मदरसा शिक्षा परिषद के चेयरमैन डॉ. इफ्तिखार अहमद जावेद की अध्यक्षता में संपन्न हुई बोर्ड की बैठक में अनुदानित व गैर अनुदानित मान्यता प्राप्त मदरसों की शिक्षिकाओं को मातृत्व अवकाश का लाभ दिलाने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा राज्य से अनुदानित मदरसों में मातृत्व अवकाश एवं बाल्य देखभाल आदि अवकाश का लाभ दिए जाने के लिए शासन स्तर से आदेश निर्गत कराने के लिए मदरसा बोर्ड के रजिस्ट्रार को अधिकृत किया गया। 




डॉ. इफ्तिखार ने बताया कि बैठक में केजी की तर्ज पर प्री प्राइमरी कक्षाओं के संचालन के लिए 25 राज्यानुदानित मदरसों को चिह्नित कर जल्द ही शासन को प्रस्ताव भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि विनियमावली 2016 में स्थानांतरण की व्यवस्था न होने की वजह से आ रही कठिनाइयों को देखते हुए विनियमावली में संशोधन होने तक स्थानांतरण के लिए कार्यकारी आदेश शासन स्तर से निर्गत कराने का निर्णय लिया गया है। 


उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अनुरोध पर मदरसों में शिक्षा ले रहे छात्र छात्राओं का सर्वे कराने का भी बोर्ड की बैठक में लिया गया। बैठक में मदरसा बोर्ड के सदस्य कमर अली, तनवरी रिजवी, डा. इमरान अहमद, असद हुसैन, वित्त एवं लेखाधिकारी अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय आशीष्ज्ञ आनंद, बोर्ड के रजिस्ट्रार जगमोहन सिंह मौजूद रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇